image

14 फरवरी का दिन जहां सारा विश्व वेलेंटाइन डे मना कर प्यार का इज़हार कर रहा था वहीं पाकिस्तान को आजादी के 70 साल बाद भी प्यार की भाषा समझ नहीं आई। पुलवामा पर आतंकी हमले के बाद देश भर में पाकिस्तान के खिलाफ आक्रोश है। इस आत्मघाती हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान वीरगति को प्राप्त हो गए। इस हमले के लिए भारत ने पाकिस्तान में बैठे आतंकी संगठनों के आकाओं को जिम्मेदार ठहराया है और कहा है कि कूटनीतिक तौर पर पाकिस्तान को अलग-थलग करने की प्रक्रिया और तेज की जाएगी। यहां तक की हमले के बाद हुई CCS की बैठक में पाकिस्तान को मिला सबसे पसंदीदा देश (MFN) का दर्जा भारत ने वापस ले लिया है।

क्रिकेट के अलावा शानदार गाड़ियों के शौकीन हैं ये भारतीय खिलाड़ी

भारत और पाकिस्तान की बीच वार्ता पहले से बंद है। भारत और पाकिस्तान साल 2012 से कोई द्विपक्षीय क्रिकेट सीरीज नहीं खेल रहे हैं। इसके साथ ही भारत ने करीब एक दशक से पाकिस्तान में जाकर कोई भी क्रिकेट सीरीज नहीं खेली है। आईपीएस में तो पहले ही पाक खिलाड़ियों की एंट्री पर बैन लगा हुआ है। ऐसे में पुलवामा हमले के बाद अब मांग उठ रही है कि भारतीय क्रिकेट टीम ICC के टूर्नामेंट में भी पाकिस्तान के साथ न खेले। पाकिस्तान के खिलाफ किसी भी तरह का संबंध रखने के खिलाफ देश की आवाम आवाज उठा रही है और इस समय वह खून का बदला खून से मांग रही है। ऐसे में पाकिस्तान के साथ खेलने का सवाल ही पैदा नहीं होता है। लेकिन क्या वास्तव में ऐसा हो सकता है।

Ford ने एस्पायर का सीएनजी वर्जन किया लॉन्च, जानें क्या है कीमत

क्रिकेट विश्व कप इसी साल होने वाला है ऐसे में क्या भारत इस ICC टूर्नामेंट में पाकिस्तान के खिलाफ मैच खेलने से मना कर सकता है? इस पर विधांशु कुमार ने कहा कि अगर भारत नहीं खेलना चाहता तो उसे वह मैच गंवाना पड़ेगा और सीधे-सीधे पाकिस्तानी क्रिकेट टीम को अंक मिल जाएंगे, जिसका असर अंक तालिका और टूर्नामेंट में भारत की हार जीत पर पड़ेगा। वह आगे कहते हैं कि इससे अलग भारतीय क्रिकेट टीम पर ऐसा करने के लिए जुर्माना भी लगाया जा सकता है और आगे बढ़कर टीम पर बैन की तलवार भी लटक सकती है।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Pulwama Attack: India will not play against Pakistan in world cup!

More News From sports

free stats