image

इस्लामाबाद : टीम इंडिया ने अपने फैंस को एक बार फिर जश्न मनाने का मौका दे दिया है। भारतीय टीम ने पाकिस्तान को विश्व कप के सभी मैच जीतने के अपने रिकार्ड को कायम रखा है। हेड टू हेड की बात करें तो भारत ने सभी 7 मैच में अपने नाम किए हैं, वहीं पाकिस्तान के खाते में एक भी जीत नहीं है। पाकिस्तान ने मैच में सिर्फ टास जीता। इसके बाद वह सभी विभागों में भारत से पिछड़ा ही रहा। इस मैच से पहले पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने पाकिस्तानी टीम को ट्विटर के जरिए जीत का मूलमंत्र दिया था, लेकिन ऐसा लगता है शायद पाकिस्तान की टीम ने इमरान का वह मैसेज पढ़ा ही नहीं, अगर पढ़ लेते तो क्या पता नतीजा कुछ और ही होता। सरफराज के इस फैसले के बाद सोशल मीडिया पर उनकी जमकर खिंचाई हो रही है।

READ NEWS : World Cup 2019 : विराट कोहली बिना आउट हुए ही पैवेलियन लौटे, जानें क्या है मामला

उन्होंने कहा, हारने की सभी आशंकाओं को दिमाग से निकाल देना चाहिए, क्योंकि दिमाग में एक समय में एक ही विचार आ सकता है। हारने का डर एक नकारात्मक और रक्षात्मक रणनीति की ओर ले जाता है और इससे विरोधी टीम की अहम गलतियों पर ध्यान नहीं जाता। इमरान ने कहा, जीत की रणनीति के तहत सरफराज को बल्लेबाजों और गेंदबाजों के साथ जाना चाहिए, क्योंकि कामचलाऊ बल्लेबाज या गेंदबाज शायद ही कभी दबाव में प्रदर्शन करते हैं, खासकर आज जैसे दबाव वाले मैच में। जब पिच में नमी ना हो सरफराज को टास जीतकर बल्लेबाजी करनी चाहिए।

READ NEWS : INDvsPAK: कोहली ने जीत के बाद रोहित और कुलदीप के लिए कही ये बात, आप भी जानें

पाकिस्तान के कप्तान ने हालांकि, इमरान के सुझाव के उलट टास जीत कर क्षेत्ररक्षण का फैसला किया। इसके बाद भारत की सलामी जोड़ी ने 136 रन जोड़कर भारत को ठोस शुरूआत दी। यहीं से मैच का मोमेंटम भारत की ओर हो गया और अंत तक कायम रहा। इस हार के बाद पाकिस्तान के कप्तान सरफराज अहमद सोच रहे होंगे कि शायद उन्होंने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री और पूर्व दिग्गज क्रिकेटर इमरान खान की बात मान ली होती। क्रिकेटर से राजनीतिज्ञ बने इमरान की कप्तानी में पाकिस्तान ने 1992 में विश्व कप का खिताब जीता था।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: INDvsPAK : Sarfaraz Ahmed Ignores Pakistan PM Imran Khan’s Toss Advice

More News From sports

Next Stories
image

free stats