image

लीड्स: एक विश्व कप में सर्वाधिक पांच शतक लगाने वाले रोहित शर्मा और केएल राहुल के सैकड़ों की मदद से भारत ने अपने आखिरी ग्रुप मैच में शनिवार को श्रीलंका को सात विकेट से हरा दिया।  सेमीफाइनल में जगह नहीं बना सकी श्रीलंका ने एंजेलो मैथ्यूज के शतक की मदद से सात विकेट पर 264 रन बनाये थे । जवाब में भारत ने 43 . 3 ओवर में तीन विकेट खोकर 265 रन बनाये। भारत फिलहाल नौ मैचों में 15 अंक लेकर अंकतालिका में शीर्ष पर है लेकिन अगर आस्ट्रेलिया दूसरे मैच में दक्षिण अप्रीका को हरा देता है तो भारत दूसरे स्थान पर आ जायेगा। भारत को शीर्ष पर रहने पर सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड से और दूसरे स्थान पर रहने पर इंग्लैंड से खेलना होगा।  रोहित ने 94 गेंद में 103 रन बनाये जो इस विश्व कप में उनका पांचवां शतक है। उन्होंने श्रीलंका के पूर्व कप्तान कुमार संगकारा का रिकार्ड तोड़ा जिन्होंने 2015 विश्व कप में चार शतक बनाये थे।

रोहित ने विश्व कप में सर्वाधिक शतकों के सचिन तेंदुलकर के रिकार्ड की भी बराबरी की। दोनों के नाम छह शतक हो गए हैं. रोहित ने 2015 विश्व कप में बांग्लादेश के खिलाफ शतक बनाया था। तेंदुलकर ने 1996, 1999,2003 और 2011 विश्व कप में शतक बनाये। तेंदुलकर के छह शतक 44 पारियों में बने जबकि रोहित ने सिर्फ 16 पारियों में यह कारनामा किया। राहुल ने उनका बखूबी साथ निभाते हुए विश्व कप में अपना पहला शतक जड़ा। दोनों ने पहले विकेट के लिये 30 ओवर में 189 रन जोड़े । रोहित ने 94 गेंदों में 14 चौकों और दो छक्कों की मदद से 103 रन बनाये। वह कासुन रजीता की गेंद पर मैथ्यूज को कैच देकर लौटे। वहीं राहुल 41वें ओवर में लसिथ मलिंगा का शिकार हुए जिनका कैच विकेट के पीछे कुसल परेरा ने लपका । उन्होंने 118 गेंदों में 111 रन बनाये जिसमें 11 चौके और एक छक्का शामिल है। कप्तान विराट कोहली 34 और हार्दिक पंड्या सात रन बनाकर नाबाद रहे। ऋषभ पंत चार रन बनाकर इसुरु उडाना की गेंद पर पगबाधा आउट हुए। 

इससे पहले श्रीलंका के लिये मैथ्यूज ने 128 गेंद में 113 रन बनाये । भारत के लिये जसप्रीत बुमराह ने 10 ओवर में 37 रन देकर तीन विकेट लिये जिन्हें खेलना श्रीलंकाई बल्लेबाजों के लिये काफी कठिन था । वहीं भुवनेश्वर कुमार ने 73 रन देकर एक विकेट चटकाया। अब तक वनडे व्रिकेट में भारत के ही खिलाफ तीनों शतक बनाने वाले मैथ्यूज ने अपनी पारी में 10 चौके और दो छक्के लगाये। इससे पहले उन्होंने मोहाली और रांची में शतक बनाया था। मैथ्यूज उस समय व्रीज पर आये जब श्रीलंका का स्कोर तीन विकेट पर 53 रन था। चौथा विकेट 55 के स्कोर पर गिर गया जब लाहिरु तिरिमन्ने व्रीज पर आये। दोनों ने पांचवें विकेट के लिये 124 रन की साङोदारी की। तिरिमन्ने ने 68 गेंद में 53 रन जोड़े। 

मैथ्यूज ने छठे विकेट के लिये धनंजय डिसिल्वा के साथ 74 रन की साङोदारी की जिसकी मदद से श्रीलंका ने 250 रन का आंकड़ा छुआ। डिसिल्वा ने 36 गेंद में 29 रन बनाये। इस विश्व कप में पहली बार खेल रहे रविंद्र जडेजा ने 10 ओवर में 40 रन देकर एक विकेट लिया। वहीं एक मैच के बाद लौटे कुलदीप यादव ने 58 रन देकर एक विकेट चटकाया। वह श्रीलंकाई बल्लेबाजों को परेशान नहीं कर पाये हालांकि आखिर में उन्हें तिरिमन्ने का विकेट मिला।  भारतीय टीम ने आज मोहम्मद शमी को आराम दिया जबकि भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह ने गेंदबाजी का आगाज किया।  बुमराह ने दिमुथ करुणारत्ने 10 को पहला शिकार बनाया जिनका कैच विकेट के पीछे महेंद्र सिंह धोनी ने लपका । धोनी ने तीन कैच लपके और एक स्टंपिंग की।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: CWC 2019 India beat Sri Lanka by 7 wickets

More News From sports

Next Stories
image

free stats