image

नई दिल्ली : एक समय टीम इंडिया की जान रहे युवराज सिंह भले ही आज भारतीय क्रिकेट टीम का हिस्सा न हों, लेकिन उनके योगदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता। वो युवराज ही हैं जिन्हेंं विश्व कप 2011 में मैन आफ द सीरीज का खिताब मिला था। युवराज का नाम आते ही दिमाग में उनके वो छह गेंदों पर छह छक्के याद आ जाते हैं। यह एक ऐसा रिकार्ड है जो युवराज और क्रिकेट फैंस को जिंदगी भर याद रहेगा। युवराज सिंह ने ये कारनामा 12 साल पहले साउथ अफ्रीका में किया था। 19 सितंबर के दिन ही युवी ने एक ओवर में छह छक्के लगाने की उपलब्धि हासिल की थी।

READ NEWS : IND vs SA : विराट ने बताया रन बनाने के लिए कौन करता है प्रेरित, कहा-...

इस रिकॉर्ड के बनने की वजह भी कम दिलचस्प नहीं है। टी-20 वर्ल्ड कप 2007 में डरबन के किंग्समिड मैदान पर भारत और इंग्लैंड के बीच मैच खेला जा रहा था। इसी मैच युवराज ने स्टुअर्ट ब्रॉड के एक ही ओवर में 6 छक्के जड़ कर इतिहास रचा था। युवराज ने सिर्फ 12 गेंदों में अपनी फिफ्टी भी पूरी की थी जो आज भी किसी भी फॉर्मेट में सबसे तेज हाफ सेंचुरी मारने का भी रिकॉर्ड है। जिन्हें नहीं पता हम उन्हें छह गेंदों पर छह छक्के मारने की वजह बताते हैं। कहते हैं इस मैच के 18वें ओवर में युवराज की इंग्लैंड के ऑलराउंडर खिलाड़ी एंड्र्यू फ्लिंटॉफ से बहस हो गई थी।

READ NEWS : IND vs SA : मोहाली टी20 में टीम इंडिया के कप्तान ने उपकप्तान से...

इसी से गुस्साए युवी ने अगले ओवर में लगातार छह गेंदों पर छक्के ठोक डाले। उससे पहले टीम इंडिया का स्कोर 171 था और 19वें ओवर के बाद 207 हो गया। युवी ने 16 गेंदों में 58 रन की पारी खेली। पारी के आखिरी ओवर में युवराज सिंह आखिर फ्लिंटॉफ का शिकार बने, लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी। 20 ओवर में टीम इंडिया ने 4 विकेट के नुकसान पर 218 रन बनाए जिसके जवाब में इंग्लैंड की टीम 20 ओवर में छह विकेट के नुकसान पर केवल 200 रन ही बना सकी और मैच टीम इंडिया ने 18 रन से जीत लिया।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: 19th September, 2007 yuvraj singh had hit 6 six in an over

More News From sports

Next Stories
image

free stats