image

गुवाहाटी : ओलंपिक रजत पदक विजेता पीवी सिंधु ने बुधवार को कहा कि उन्हें अब भी काफी कुछ सीखना है और विश्व बैडमिंटन में दबदबा बनाने के लिए उन्हें कुछ और शाट सीखने की जरुरत है.ओलंपिक, विश्व चैंपियनशिप, एशियाई खेलों और राष्ट्रमंडल खेलों जैसी बड़ी प्रतियोगिताओं में रजत पदक जीतने वाली सिंधु ने पिछले तीन साल में विश्व में शानदार प्रदर्शन किया है.लेकिन यह भारतीय खिलाड़ी दुनिया की नंबर एक रैंकिंग हासिल करने में नाकाम रही। चीनी ताइपे ही ताइ ताइ जू यिंग 2016 से 14 खिताब जीतकर दुनिया की नंबर एक खिलाड़ी बनी हुई हैं.यह पूछने पर कि क्या उन्हें विश्व बैडमिंटन में दबदबा बनाने के लिए कुछ और शाट जोड़ने की जरुरत है, सिंधु ने कहा, ‘‘निश्चित तौर पर हां। यह मेरे लिए सिर्फ शुरुआत है. मुङो काफी कुछ और सीखना है. मेरे पास अच्छे शाट हैं लेकिन मुङो रोजाना नए शाट सीखना जारी रखना होगा। उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन मुङो लगता है कि सिर्फ एक खिलाड़ी बैडमिंटन में दबदबा नहीं बना सकता क्योंकि काफी खिलाड़यिों के आने से खेल में बदलाव आ रहा है. साथ ही किसी निश्चित दिन आपको शत प्रतिशत होने की जरुरत होगी, एक प्रतिशत भी कम नहीं।

अगर आप दुनिया में एक से 20 नंबर की खिलाड़यिों को देखो तो उनका स्तर समान है इसलिए आपको हमेशा एकाग्रता बनाए रखनी होती है. अगले महीने आल इंग्लैंड ट्राफी जीतने के प्रबल दावेदारों में शामिल सिंधु ने कहा कि वह इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट में खिताब के भारत के 18 साल के इंतजार को खत्म करने के लिए कड़ी मेहनत कर रही हैं.
 उन्होंन कहा, ‘‘इस हफ्ते के बाद आल इंग्लैंड के लिए सिर्फ दो हफ्ते बचेंगे। मुङो पता है कि कैरोलिन मारिन वहां नहीं होगी चोट के कारणी लेकिन यह आसान नहीं होगा क्योंकि कुछ काफी अच्छी खिलाड़ी मौजूद हैं और मैच के दिन जो सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करेगा वह जीतेगा।  भारत के खिताब के सूखे को खत्म करने के बारे में पूछने पर सिंधु ने कहा, ‘‘उम्मीद करती हूं कि ऐसा होगा, मुङो लगता है कि कोई अगर कोई ऐसा कर पाया तो अच्छा होगा और निश्चित तौर पर हम इसके लिए काम करेंगे।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Indus said, I am still learning

More News From badminton-sports

Next Stories
image

free stats