image

बासेल : भारत की बेटी और बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधू ने रविवार के दिन सभी भारतीयों को गौरवान्वित किया। सिंधू ने यहां बीडब्ल्यूएफ बैडमिंटन विश्व चैम्पियनशिप-2019 के फाइनल में दुनिया की चौथे नंबर की खिलाड़ी जापान की नोजोमी ओकुहारा को हराकर चैम्पियनशिप में पहली बार स्वर्ण पदक जीत लिया। इस जीत के साथ ही सिंधू विश्व चैम्पियनशिप में स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली भारतीय खिलाड़ी बन गई हैं। विश्व रैंकिंग में पांचवें पायदान पर काबिज सिंधू ने ओकुहारा को सीधे गेम में एकतरफा अंदाज में 21-7, 21-7 से पराजित किया। यह मुकाबला 38 मिनट तक चला।

READ NEWS : तेंदुलकर ने कहा- टेस्ट क्रिकेट जिंदा रखने के लिए अच्छी पिचें जरूरी,...

इस जीत के साथ ही सिंधु ने ओकुहारा से खिलाफ अपना करियर रिकॉर्ड 9-7 का कर लिया है। भारतीय बैडमिंटन स्टार सिंधू ने इस ऐतिहासिक जीत के साथ ही 2017 के फाइनल में आकुहारा से मिली हार का हिसाब भी बराबर कर लिया। वर्ष 2017 और 2018 में रजत तथा 2013 व 2014 में कांस्य पदक जीत चुकीं सिंधू ने पहले गेम में अच्छी शुरुआत की और 5-1 की बढ़त बना ली। इसके बाद वह 12-2 से आगे हो गईं। लगातार तीसरे साल फाइनल में पहुंचने वाली सिंधू ने इसके बाद पीछे मुड़कर नहीं देखा और 16-2 की लीड लेने के बाद 21-7 से पहला गेम जीत लिया।

READ NEWS : अंबाती रायुडू ने क्रिकेट से संन्यास का फैसला बदला, पढ़ें क्या कहा

भारतीय खिलाड़ी ने 16 मिनट में पहला गेम अपने नाम किया। दूसरे गेम में सिंधू ने 2-0 की बढ़त के साथ शुरुआत करते हुए अगले कुछ मिनटों में 8-2 की लीड कायम कर ली। ओलम्पिक पदक विजेता भारतीय खिलाड़ी ने आगे भी अपने आक्रामक खेल के जरिये अंक लेना जारी रखा। सिंधू ने मुकाबले में 14-4 की शानदार बढ़त बना ली। इसके बाद उन्होंने लगातार अंक लेते हुए 21-7 से गेम और मैच समाप्त करके बीडब्ल्यूएफ बैडमिंटन विश्व चैम्पियनशिप में पहली बार स्वर्ण पदक जीत लिया।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Badminton World Championships : PV Sindhu creates history, wins gold medal

More News From sports

Next Stories
image

Auto Expo Amritsar 2019
Auto Expo Amritsar 2019
free stats