image

देश के बहुत सारे होनहार विद्यार्थी कमज़ोर आर्थिक स्थिति के चलते या तो 10वीं के बाद पढ़ाई छोड़ देते हैं या फिर बमुश्किल 12वीं कक्षा ही पास कर पाते हैं। आकंड़ों की माने तो 10वीं कक्षा तक ड्रॉप आउट (स्कूल छोड़ने वाले) विद्यार्थियों की संख्या बहुत ज्यादा है। वहीं अगर सभी मुश्किलों को दरकिनार विद्यार्थी कॉलेज तक पहुंच भी जाते हैं तो डिग्री पूरी कर पाना उनके लिए एक बहतु बड़ी चुनौती होती है। देश के ऐसे होनहार 750 विद्यार्थियों को उनकी शिक्षा के लिए नई उड़ान देने के उद्देश्य से एचपी इंडिया स्कॉलरशिप दे रहा है। एचपी इंडिया द्वारा शैक्षिक सत्र 2017-18 में 10वीं व 12वीं पास मेधावी विद्यार्थियों को एचपी उड़ान स्कॉलरशिप प्रोग्राम 2018-19 के तहत स्कॉलरशिप दी जा रही है। इस छात्रवृत्ति योजना के तहत 50 फीसदी सीटें महिला छात्राओं के लिए आरक्षित रखी गई हैं।

मानदंड
इस स्कॉलरशिप योजना के तहत विभिन्न कक्षाओं के लिए विभिन्न मानदंड तय किए गए हैं। प्रत्येक कक्षा से संबंधित मानदंडों नीचे उल्लेखित हैं, आप किन योग्यताओं को पूरा करते हैं उसके हिसाब से आप आवेदन कर सकते हैं। इसमें स्कॉलरशिप तीन कैटेगरि में प्रदान की जाएगी जैसे एकमुश्त राशि, दो वर्ष के लिए और तीसरी है तीन वर्ष के लिए लगातार स्कॉलरशिप प्राप्त होगी।

एक वर्षीय स्कॉलरशिप स्कीम के मानदंडः-
 इस योजना में विद्यार्थी को एक बार एकमुश्त राशि स्कॉलरशिप के रूप में मिलेगी।
 विद्यार्थी ने किसी भी एक वर्षीय आईटीआई या डिप्लोमा कोर्स में दाखिला लिया हो।
 विद्यार्थी ने 10वीं कक्षा में कम से कम 60 प्रतिशत अंक अर्जित किए हों दो वर्षीय स्कॉलरशिप योजना के लिए योग्यताः-
 इस योजना के तहत विद्यार्थी को लगातार दो वर्ष के लिए छात्रवृत्ति प्राप्त होगी।
 10वीं कक्षा पास विद्यार्थी जिन्होंने 11वीं कक्षा में दाखिला लिया हो या फिर दो वर्षीय आईटीआई, पोलिटेक्निक, डिप्लोमा में दाखिला लिया हो।
 10वीं कक्षा में 60 फीसदी अंक होने जरूरी हैं।

तीन वर्षीय स्कॉलरशिप के लिए मानदंडः-
 इस तीन वर्षीय योजना के तहत विद्यार्थी को डिग्री पूरी करने के लिए लगातार तीन वर्ष तक छात्रवृत्ति मिलेगी।
 इसके लिए विद्यार्थी ने 12वीं कक्षा में कम से कम 60 प्रतिशत अंक हासिल किए हों।
 वर्तमान सत्र में विद्यार्थी ने किसी भी मान्यता प्राप्त कॉलेज, संस्थान, यूनिवर्सिटी में किसी भी स्ट्रीम में तीन वर्षीय ग्रेजुएशन डिग्री, डिप्लोमा के पहले वर्ष के विद्यार्थी हों।

अन्य मानदंड
 इन तीनों योजनाओं में विद्यार्थी की पारिवारिक आय 4 लाख रुपये वार्षिक से अधिक नहीं होनी चाहिए।
 इस स्कॉलशिप स्कीम में चार वर्षीय डिग्री-डिप्लोमा प्रोग्राम के विद्यार्थी आवेदन के पात्र नहीं होंगे।
 यह छात्रवृत्ति योजना 50 फीसदी महिला छात्राओं के लिए आरक्षित है।

लाभ/ईनाम

 एक वर्षीय डिप्लोमा, आईटीआई के विद्यार्थियों को एकमुश्त 20,000 रुपये की राशि प्राप्त होगी। (केवल एक बार 20,000 रुपये)
 दो वर्षिय आईटीआई डिप्लोमा व 11वीं-12वीं कक्षा हेतु 20,000 रुपये प्रति वर्ष प्राप्त होंगे। (कुल 40,000 रुपये प्रति विद्यार्थी)
 तीन वर्षिय डिग्री, डिप्लोमा के लिए 30,000 रुपये तक की राशि प्रति वर्ष मिलेगी। (कुल 90,000 रुपये प्रति विद्यार्थी)

अंतिम तिथि
26 फरवरी 2019 से पहले आवेदन किया जा सकता है।

महत्त्वपूर्ण दस्तावेज की सूची:-

इस स्कॉलरशिप स्कीम के लिए आवेदन के साथ स्टूडेंट्स को निम्नलिखित दस्तावेजों(डोक्यूमेंट्स) उपलब्ध करवाने होंगे।
 पासपोर्ट साइज़ फोटोग्राफ
 भारत सरकार मान्यता प्राप्त कोई एक पहचान पत्र
 आय प्रमाणपत्र (इसमें सैलेरी स्लिप, एफिडेविट, राशन कार्ड, इनकम सर्टिफिकेट, बीपीएल, एपीएल, फूड सिक्योरिटी कार्ड आदि)
 विद्यार्थी के बैंक की पासबुक के पहले पन्ने की स्पष्ट कॉपी या फिर कैंसिल चेक
 10वीं कक्षा की मार्कशीट
 ग्रेजुएशन, डिप्लोमा के फर्स्ट ईयर के स्टूडेंट्स को 12वीं की मार्कशीट देनी होगी।
 वर्तमान वर्ष की दाखिला फीस, दाखिला पत्र, स्कूल या कॉलेज का आईडी कार्ड या बोनाफाइ़ड सर्टिफिकेट

आवेदन कैसे करें:-
इस स्कॉलरशिप के लिए इच्छुक विद्यार्थियों को ऑनलाइन आवेदन करना होगा। 

ऑनलाइन आवेदन हेतु महत्वपूर्ण लिंक:- 
http://www.b4s.in/Savera/HUS2

अधिक जानकारी के लिए आप हमारी वेबसाइट पर जाकर प्रक्रिया फॉलो कर सकते हैं।
https://www.buddy4study.com/scholarship/hp-udaan-scholarship-program-2018-19

साभार: - www.buddy4study.com

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: HP new flight giving 750 students to the country

More News From knowledge

Next Stories
image

free stats