image

चंडीगढ़: पंजाब में 5 सितंबर के तरनतारन विस्फोट मामले की जांच अब राष्ट्रीय जांच एजैंसी (एन.आई.ए.) करेगी। पंजाब सरकार के यहां जारी बयान के अनुसार केंद्र सरकार ने शुक्रवार को ही कैप्टन अमरेंद्र सिंह सरकार की इस आशय की सिफारिश को स्वीकार करने की सूचना दी। प्रदेश सरकार ने विस्फोट के आरोपियों के तार कथित रूप से पाक समर्थित सिख्स फॉर जस्टिस व अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर संदिग्धों से जुड़े होने के संदेह के कारण यह सिफारिश की थी।

पंजाब सरकार के प्रवक्ता के अनुसार केंद्र की स्वीकृति के बारे में सूचना प्रदेश के मुख्य सचिव और पुलिस महानिदेशक को मिल गई है। तरनतारन जिले के पांडोरी गोला गांव में एक शक्तिशाली विस्फोट हुआ था जिसमें 2 लोग मारे गए थे और एक अन्य व्यक्ति घायल हुआ था। विस्फोट उस समय हुआ जब पीड़ित संभवत: छिपाए विस्फोटक निकालने के लिए एक खड्ढा खोद रहे थे। मामले में धारा 304 और विस्फोटक पदार्थ अधिनियम की धाराओं के तहत एफ.आई.आर. दर्ज की गई थी। पंजाब पुलिस ने इस मामले में 8 लोगों को गिरफ्तार किया था। ऑस्ट्रिया में रह रहे मुख्य साजिशकर्त्ता बिक्रमजीत सिंह उर्फ ग्रंथी समेत 7 अन्य आरोपी फरार हैं। 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: NIA will investigate tarantaran blast case

More News From punjab

Next Stories
image

free stats