image

फतेहगढ़ साहिब: डा. अमर सिंह पंजाब सिविल मेडिकल सर्विसेज के दौरान सिविल अस्पताल व सिविल सजर्न आफिस लुधियाना में बतौर मेडिकल अफसर तैनात रह चुके हैं। हालांकि 1981 में वह आईएएस चुने गए व मध्य प्रदेश कैडर के अलावा केंद्र सरकार में डैपूटेशन पर अहम पदों पर रहे। डा. अमर सिंह कांग्रेसी परिवार से ताल्लुक रखते थे। उनके भाई गुरचरण सिंह बोपाराय 2012 के विधानसभा चुनाव में रायकोट से विधायक चुने गए। रिटायरमैंट के बाद डा. अमर सिंह के कांग्रेस ज्वाइन करने के बाद 2017 के चुनाव में पार्टी ने उनके भाई की बजाय डा. अमर सिंह को रायकोट से टिकट दे दी। हालांकि डा. अमर सिंह गिल हलके से चुनाव लड़ने के इच्छुक थे और लगातार इस सीट पर दावा भी जता रहे थे, लेकिन पार्टी ने पूर्व आई.ए.एस. कुलदीप वैद को टिकट दे दी। डा. अमर सिंह आम आदमी पार्टी के जगतार सिंह जग्गा से 10614 वोटों के अंतर से चुनाव हार गए। 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Amar Singh win from Fatehgarh sahib lok sabha seat 

More News From punjab

Next Stories
image

free stats