image

अबुधाबी: जेब में डेबिट कार्ड आ जाने के बाद से हमारी जिंदगी में कई बदलाव हुए है। अब हम ज्यादा कैश लेकर नहीं चलते हैं और डिजीटल क्रांति के बाद से तो अब हम कैशलैश भी बड़ी आसानी के साथ रह लेते हैं। क्योंकि पेमेंट करने के लिए अब हमारे पास कैश का होना ही एकमात्र विकल्प नहीं है। हम अपने क्रे़डिट/डेबिट कार्ड और अलग-अलग एप्स की मदद से आज अपना बिल चुका देते हैं और कैशलैश होकर इसी तरह से बेधड़क शॉपिंग करने के लिए अब भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार संयुक्त अरब अमीरात (UAE) के बाजार में रुपे कार्ड की पेशकश की जिससे यहां की बहुत सी दुकानों और व्यावसायिक प्रतिष्ठानों में भी भारत के इस डिजिटल भुगतान कार्ड से खरीद की जा सकती है। 

संयुक्त अरब अमीरात पश्चिम एशिया का पहला देश बन गया जिसने इलेक्ट्रॉनिक भुगतान की भारतीय प्रणाली को अपनाया है। भारत इससे पहले सिंगापुर और भुटान में रुपे कार्ड के चलने को शुरू कर चुका है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट किया, 'भारत और यूएई की अर्थव्यवस्थाओं को एक दूसरे के और नजदीक लाते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की उपस्थिति में यूएई में आधिकारिक तौर पर रुपे कार्ड को पेश किया गया। खाड़ी देशों में यूएई पहला देश है जिसने भारतीय रुपे कार्ड को अपनाया है। यूएई की कई कंपनियों ने रुपे भुगतान को स्वीकार करने की बात की है।'

यूएई में भारतीय राजदूत नवदीप सिंह सुरी ने इससे पहले इस सप्ताह में कहा, 'यूएई इस क्षेत्र का सबसे बड़ा और आकर्षक व्यवसायिक केंद्र है। इस क्षेत्र रहने वाले भारतीय समुदाय के सबसे अधिक लोग यहीं रहते हैं, सबसे ज्यादा भारतीय पर्यटक यहीं आते हैं और इस सबसे ज्यादा व्यापार भारत के साथ है। इस क्षेत्र में रुपे कार्ड को स्वीकार करने वाला पहला देश बनने के साथ हम उम्मीद करते हैं इससे पर्यटन, व्यापार तथा भारतीय समुदाय, इनमें से सबको लाभ होगा। मोदी फ्रांस, यूएई और बहरीन की तीन देशों की यात्रा के क्रम में शुक्रवार को पेरिस से यहां पहुंचे।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Now India's Rupay card will also run in UAE, this will be an advantage

More News From business

Next Stories
image

Auto Expo Amritsar 2019
Auto Expo Amritsar 2019
free stats