image

नई दिल्लीः सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक आफ बड़ौदा, देना बैंक और विजया बैंक के विलय के मद्देनजर परिचालन दक्षता में सुधार के लिए देश भर में 800 से 900 शाखाओं को स्थानातंरित करेगा या बंद करने पर विचार कर रहा है। बीओबी में देना बैंक तथा विजया बैंक का विलय एक अप्रैल से प्रभाव में आया। बैंक के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि देना और विजया बैंक के बीओबी में विलय के बाद एक ही जगह इन बैंकों की शाखाओं के होने का कोई मतलब नहीं है। अधिकारी ने कहा, ऐसे कई मामले हैं जहां इन तीन बैंकों की शाखाएं एक ही जगह है या एक ही इमारत में है। 

चुनाव खत्म होते ही तेल कंपनियों ने बढ़ाई पेट्रोल-डीज़ल की कीमत

अत: इन शाखाओं को या तो बंद करने या उसे युक्तिसंगत बनाने की जरूरत है। एक ही जगह इन बैंकों की शाखाओं से कुशलता पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ेगा। उसने कहा कि व्यापक समीक्षा के बाद बीओबी ने 800 से 900 शाखाओं की पहचान की है जिसे युक्तिसंगत बनाने की जरूरत है। बैंक इसके तहत कुछ शाखाओं को दूसरी जगह ले जा सकते हैं और फिर कुछ मामलों में उसे बंद कर सकते हैं। इसके अलावा विलय वाले बैंकों के क्षेत्रीय तथा संभागीय दफ्तरों को भी बंद करने की जरूरत है क्योंकि उसकी जरूरत नहीं है।
 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Big change in Bank of Baroda, will close 800-900 branches!

More News From business

IPL 2019 News Update
free stats