image

चंडीगढ़: हरियाणा में पांव जमाने की कोशिश में जुटे शिरोमणि अकाली दल को लोकसभा चुनाव के लिए पंजाब में उम्मीदवारों की तलाश में मुश्किलें आ रही हैं। संगरूर, खडूर साहिब और फिरोजपुर हलका पार्टी के लिए चुनौती बने हुए हैं जबकि अन्य हलकों में पार्टी प्रधान सुखबीर बादल जिताऊ उम्मीदवार की तलाश में हैं।

सन् 2012 के विधानसभा चुनाव में लगतार दूसरी बार जीत मिलने के बाद पंजाब की सियासत में इस रणनीति को सुखबीर बादल का माइक्रो मैनेजमैंट बताया गया था लेकिन सुखबीर के सामने इस बार चुनौती सामने खड़ी है। संगरूर से पार्टी के वरिष्ठ नेता सुखदेव सिंह ढींडसा चुनाव लड़ने से मना कर चुके हैं जबकि खडूर साहिब से सांसद रणजीत सिंह ब्रrापुरा अलग पार्टी बना चुके हैं और फिरोजपुर के सांसद शेर सिंह घुबाया का सुखबीर के साथ छत्तीस का आंकड़ा है और घुबाया कांग्रेस से हाथ मिला चुके हैं। सुखबीर इन तीनों सीटों पर हैवीवेट उम्मीदवार की तलाश में हैं।

पंजाब में अकाली-भाजपा गठबंधन सरकार के समय हुई बेअबदी की घटनाओं के बाद राज्य में जनमानस अकाली दल के खिलाफ खड़ा है और ऐसे माहौल में सुखबीर जमीन तलाश कर रहे हैं।पार्टी सूत्रों का कहना है कि प्रधान सुखबीर बादल कुछ मंत्रियों को मैदान में उतारना चाहते हैं और इसके लिए उनसे बातचीत चल रही है लेकिन अभी कोई अंतिम फैसला नहीं हो सका है। यह भी पता चला है कि सुखबीर अमृतसर से फिल्म अभिनेता अक्षय कुमार को मैदान में उतारना चाहते हैं, अगर ऐसा होता है तो अमृतसर का चुनाव एक बार फिर बेहद दिलचस्प होगा।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Sukhbir Badal not meeting winner candidate

More News From punjab

Next Stories
image

free stats