image

सुल्तानपुर लोधी: ससुराल घर आया युवक अंधेरे में गलती से समीपवर्ती गांव में किसी के घर जा घुसा। घर के लोगों ने उसे चोर समझकर इतना पीट दिया कि कुछ घंटे बाद उसकी मौत हो गई। थाना सुल्तानपुर लोधी की पुलिस ने युवक को पीटने वाले 2 लोगों के साथ-साथ ससुर को लापरवाही बरतने के आरोप में नामजद किया है। मृतक के घर कुछ दिन पहले ही एक नन्हीं परी ने जन्म लिया है। पुलिस को दिए बयान में सोढी निवासी मोहल्ला बागवाला कस्बा शाहकोट (जालंधर) ने बताया कि उसका सबसे बड़ा भाई मस्सू उर्फफौजी राजमिस्त्री है। उसका ससुराल सुल्तानपुर लोधी के गांव अल्लादित्ता मोठांवाल हैं। उसकी भाभी राशि लड़की के जन्म के बाद अपने मायके घर रह रही थी।

उसका भाई मस्सू उर्फ फौजी भी पिछले 8 दिन से ससुराल में ही था। 16 जून की सुबह 7 बजे मस्सू के ससुर कालीनाथ ने उसे फोन करके बताया कि अलसुबह करीब 3 बजे मस्सू उठकर कहीं चला गया। इसी दौरान कालीनाथ को किसी ने फोन करके सूचना दी कि गांव तलवंडी माधो में सुबह करीब 4 बजे मस्सू उर्फ फौजी मोहन सिंह और लखबीर सिंह के घर गलती से घुस गया, जिन्होंने उसे चोर समझकर पीट डाला। इस पर कालीनाथ वहां से उसे अपने घर ले आया। सोढी ने बताया कि मोटरसाइकिल पर अपने भाई निम्मा के साथ पहले वह गांव तलवंडी माधो पहुंचा, क्योंकि तलवंडी माधो उनका पैतृक गांव है।

वहां पूछताछ के बाद जब वह अपने भाई को अस्पताल ले जाने के लिए मस्सू के ससुराल गांव अल्लिदत्ता मोठावांल पहुंचे तो देखा कि मस्सू खाट पर बेहोशी की हालत में लेटा हुआ था और उसके शरीर पर पिटाई के निशान थे। जब उसे पानी पिलाने की कोशिश की तो मस्सू ने उसके ही हाथों में दम तोड़ दिया। सोढी ने बताया कि मोहन सिंह, लखबीर सिंह व अन्य ने उसके भाई को पीटने के बाद उसकी जान बचाने के लिए अस्पताल भर्ती नहीं करवाया। जिसकी सूचना पुलिस को दी गई। एस.एच.ओ. इंस्पैक्टर बिक्र मजीत सिंह ने बताया कि मोहन सिंह, लखबीर सिंह के साथ-साथ मस्सू के ससुर कालीनाथ के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है तथा शव पोस्टमार्टम करवाने के बाद परिजनों को सौंप दिया है। अभी किसी की भी गिरफ्तारी नहीं हुई है।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: In-laws, the young man accidentally reached home in some way, neighbors thought of being a thief, beaten to death

More News From punjab

Next Stories

image
free stats