image

पटियाला: लंबे समय के बाद आखिर टोहरा और बादल परिवारों की पंजाब की राजनीति में दूसरी बार सांझ पड़ गई है। आज पंथ रत्न जत्थेदार गुरचरण सिंह टोहरा के दामाद हरमेल सिंह टोहरा अपनी पत्नी कुलदीप कौर टोहरा, बेटे हरिन्द्र पाल सिंह टोहरा समेत सैकड़ों समर्थकों के साथ शिअद के बेड़े में सवार हो गए हैं। पार्टी प्रधान सुखबीर सिंह बादल ने समूचे टोहरा परिवार व समर्थकों को बधाई देते सिरोपा डाल कर सम्मानित किया और कहा कि अब आगामी भविष्य सिर्फ और सिर्फ शिअद का है।

सुखबीर सिंह बादल तकरीबन 4 बजे पूर्व मंत्री हरमेल सिंह टोहरा के निवास पर पहुंचे, जहां सबसे पहले सुखबीर सिंह बादल और टोहरा परिवार की आधा घंटा बंद कमरे में मीटिंग हुई। मीटिंग के बाद ही समूचा परिवार और बादल के साथ पत्रकारों के रू-ब-रू हुआ। सुखबीर सिंह बादल ने बताया कि टोहरा परिवार उनका अपना परिवार है। इस परिवार को शिअद में पूरा बनता मान और सम्मान मिलेगा। उन्होंने बताया कि टोहरा परिवार की वापसी के साथ समूचे पंजाब की सीटों पर अकाली दल की जीत तय हो गई है तथा पटियाला से परनीत कौर अब तीसरे नंबर पर जाएंगी। 

सुखबीर ने बताया कि शिअद के लिए आज सबसे बड़ी खुशी का दिन है। पंजाब की राजनीति को अब तक स. प्रकाश सिंह बादल और जत्थेदार गुरचरण सिंह टोहरा की जोड़ी ने ही चलाया है और अब टोहरा परिवार की अकाली दल में वापसी के साथ अकाली दल पूरी तरह मजबूत हो गया है।
सुखबीर सिंह बादल ने ऐलान किया कि पूर्व मंत्री हरमेल सिंह टोहरा शिअद के सीनियर उप प्रधान होंगे। उन्होंने बताया कि अकाली दल समूचे परिवार को पूरा-मान और सम्मान देगा तथा इस परिवार के सभी गिले-शिकवे दूर कर दिए गए हैं।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Harmal tohra family joins Akali Dal

IPL 2019 News Update
free stats