image

अमृतसर: सिटी पुलिस द्वारा एटीएम फ्रॉड के मामले में गिरफ्तार किया गया विदेशी नागरिक ओपरया मेरियस अकेला भारत नहीं आया है। न ही वह इस फ्रॉड केस में अकेला विदेशी आरोपी है। उसके साथ रोमानिया का एक ओर शातिर अपराधी भी फ्रॉड में शामिल है। इसका खुलासा पुलिस रिमांड के दौरान पूछताछ के दौरान हुआ है। उसने पुलिस को बताया है कि उसका दूसरा साथी रोटन क्रिसटेन भी उसके साथ वारदातों में शामिल है। उसकी गिरफ्तारी के बाद रोटन भूमिगत हो गया है।

पुलिस ने तुरंत कार्रवाई करते हुए रोटन का लुक आऊट सकरुलर जारी करवा दिया है। देश के सभी एयरपोर्ट, बंदरगाह और सड़क रास्तों से दूसरे देशों में जाने वाले बार्डर पर सूचित कर दिया गया है। अमृतसर के बस स्टैंड के नजदीक पंजाब एंड सिंध बैंक के एटीएम में लोगों का डाटा धोखे से चुराने के लिए रोमानिया के ओपरया मेरियस द्बारा विशेष प्रकार की डिवाइस लगाई गई थी। शक के आधार पर बैंक के अधिकारियों द्वारा जब जांच की गई और सी.सी.टी.वी. फुटेज को खंगाला गया तो पूरा मामला सामने आ गया।  

टूरिस्ट  वीजा पर भारत आया था आरोपी, घूमते-घूमते खत्म हो गए थे रुपए 
पूछताछ के दौरान खुलासा हुआ है कि इस मामले मास्टरमाइंड दिल्ली के रहने वाले हैं। आरोपी ने पुलिस को बताया है वह टूरिस्ट वीजा पर भारत में आया है। दिल्ली में घूमने के लिए आया तो वहां पर उसके रु पए खत्म हो गए। इसी दौरान उसे दिल्ली में सूरज नाम का एक व्यक्ति मिला। उसने सूरज से मदद मांगी। सूरज ने उससे पूछा कि वह क्या करता है। उसने बताया कि वह रोमानिया में सॉफ्टवेयर कंप्यूटर इंजीनियर है। सूरज ने उसे कहा कि वह उसकी मदद करेगा। मगर उसके कहने के अनुसार काम करना होगा। सूरज ने उसे एटीएम फ्रॉड करना सिखाया। उनके द्वारा तैयार की गई डिवाइस को एटीएम मशीन में फिट करने के लिए कहा।

इतना ही नहीं उसे कार में बिठाकर सूरज और दो अन्य लोग अमृतसर लेकर आए। अमृतसर में पंजाब एंड सिंध बैंक के एटीएम में उनके द्वारा तैयार की गई चिप लगी स्पेशल डिवाइस लगाने के लिए कहा गया। वह बड़ी सफाई से डिवाइस लगाने में कामयाब रहा। मगर बैंक के अधिकारियों को एटीएम के साथ छेड़छाड़ के संकेत मिल गए थे। इसलिए पुलिस की मदद से एटीएम के आसपास जाल बिछाया गया। डिवाइस लगाने के बाद जैसे ही रोमानिया का युवक दोबारा से एटीएम में आया तो पुलिस ने उसे काबू कर लिया। पुलिस के अनुसार रोमानिया के युवक की गिरफ्तारी के बाद राष्ट्रीय स्तर का गैंग सामने आया है। पुलिस अभी दिल्ली निवासी सूरज और उसके साथियों की तलाश कर रही थी तभी पूछताछ के दौरान रोमानिया के दूसरे आरोपी का नाम आ गया है।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: ATM fraud wires connected to Delhi, another vicious from Romania included

More News From punjab

Next Stories
image

free stats