image

संगरुर : पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने बुधवार को बादल परिवार पर आरोप लगाया कि वे अपने निहित स्वार्थों के लिए अकाल तख्त का दुरुपयोग कर सिखों की धार्मिक भावनाओं से खिलवाड़ कर रहे हैं. अकाल तख्त सिखों की सर्वोच्च धार्मिक संस्था है.मुख्यमंत्री ने यहां एक रैली को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘धर्म का इस तरह से राजनीतिकरण शिरोमणि अकाली दल को उल्टा पड़ेगा। अमरिंदर ने कहा, ‘‘जो कोई भी अकाल तख्त का इस्तेमाल करने का प्रयास करता है वह मेरी नजरों में सिख नहीं है. उन्होंने तख्त की सर्वोच्च ताकत को कमतर करने के बादल परिवार के ‘‘अपमानजनक’’ प्रयास की निंदा की।उन्होंने आरोप लगाए, ‘‘अकाली दावा करते हैं कि वह सिख धर्म के रक्षक हैं लेकिन अपने राजनीतिक हितों को बढ़ावा देने के लिए उन्होंने हमेशा इसका इस्तेमाल किया है. फरीदकोट में कांग्रेस उम्मीदवार मोहम्मद सादिक के पक्ष में प्रचार करते हुए अमरिंदर ने कहा कि 2015 के धर्मग्रंथों की बेअदबी और पुलिस गोलीबारी की घटना की जांच कर रहे एसआईटी के सदस्य आईपीएस अधिकारी लोकसभा चुनावों के बाद इस मामले को निष्कर्ष तक पहुंचाएंगे। गौरतलब है कि चुनावों के दौरान उनका प्रभार वापस ले लिया गया है.
 उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘भारत का चुनाव आयोग भाजपा का है और उन्होंने अधिकारी को हटवा दिया जबकि तथ्य यह है कि जांच की जारी प्रव्रिया में अदालतें भी हस्तक्षेप नहीं करती हैं. मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘चुनाव खत्म होते ही वही अधिकारी कुंवर विजय प्रताप सिंह मामले की जांच करेंगे और इसे निष्कर्ष तक पहुंचाएंगे।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Amarinder accused the Badal family of misusing the Akal Takht

IPL 2019 News Update
free stats