image

मोगा/बाघापुराना: शिरोमणि अकाली दल टकसाली की ओर से सोमवार को अकाली दल बादल के गढ़ बाघापुराना के नसीब पैलेस में बैठक का आयोजन किया गया, जिसमें शिअद टकसाली के अध्यक्ष रणजीत सिंह ब्रह्मपुरा, सीनियर उपाध्यक्ष रतन सिंह अजनाला, मुख्य प्रवक्ता व महासचिव करनैल सिंह पीर मोहम्मद विशेष तौर पर पहुंचे। 

बैठक को संबोधित करते हुए अध्यक्ष रणजीत सिंह ब्रह्मपुरा ने कहा कि आज शिअद टकसाली ने पहली कांफ्रेंस अकाली दल बादल के हलके में की है जहां भारी समर्थन मिला है। इससे अकाली दल बादल का पंजाब से सफाया निश्चित हो गया है। उन्होंने कहा कि अकाली दल बादल के जो नेता शिअद टकसाली में आ रहे हैं तथा जो आना चाहते हैं, उनसे शिअद टकसाली अपील करता है कि वे पार्टी को और मजबूत करने के लिए उनके साथ आएं। 

उन्होंने कहा कि आने वाले लोकसभा चुनावों में पंजाब में अकाली दल बादल व भाजपा तथा पूरे देश में मोदी का सफाया निश्चित दिख रहा है। उन्होंने कहा कि पंजाब में अकाली दल बादल एक प्राइवेट कंपनी की पार्टी बन कर रह गई है, जिसके प्रमुख जीजा-साला सुखबीर तथा मजीठिया हैं। उन्होंने कहा कि शिअद टकसाली आने वाले शिरोमणि कमेटी के चुनावों में भी बढ़-चढ़कर भाग लेगा तथा अकाली दल बादल को करारी हार देगा।

उन्होंने कहा कि बादल ने शिरोमणि कमेटी पर कब्जा करके सभी सिख परंपराओं को नुक्सान पहुंचाया है। उन्होंने कहा कि शिअद टकसाली आम आदमी पार्टी को भी साथ लेकर मजबूत जत्थेबंदी बनाना चाहता है। उन्होंने कहा कि शिअद टक साली में सुखपाल सिंह खैहरा, धर्मवीर गांधी, लोक इंसाफ पार्टी, बसपा इसमें शामिल हो चुके हैं। 

उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में बादल को और भी मुश्किलों का सामना करना पड़ेगा, जब उसके सीनियर नेता बादल को छोड़कर अकाली दल टकसाली में शामिल होंगे। उन्होंने कहा कि पंजाब में कांग्रेस की सरकार भी फेल साबित हुई है तथा उसने भी लोगों से किए वादे पूरे नहीं किए तथा उन्होंने गत् दिवस अध्यापकों पर हुए लाठीचार्ज की निंदा की। 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Akalis-BJP's elimination in Punjab: Brahmapura

More News From punjab

free stats