image

लुधियाना: शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के पूर्व अध्यक्ष जत्थेदार अवतार सिंह मक्कड़ ने शिअद महासचिव व दिल्ली से विधायक मनजिंदर सिंह सिरसा को मंगलवार को आड़े हाथ लिया। मक्कड़ ने कहा कि जब पार्टी के प्रधान सुखबीर सिंह बादल स्पष्ट कर चुके हैं कि अब पूरा विवाद खत्म हो गया है, तो उसके बाद भी सिरसा का बड़े-बड़े बयान देने का कोई मतलब नहीं बनता। ऐसा करके वह पार्टी को संकट में ही डाल रहे हैं।

मक्कड़ ने कहा कि सिरसा 10 साल पहले तो पार्टी में आए हैं। उन्हें यह पता होना चाहिए कि पार्टी अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने जब कोई बयान दे दिया, उसके बाद उन्हें चुप रहना चाहिए। हालांकि जत्थेदार मक्कड़ ने कहा कि अकाली दल ने यह विवाद बेवजह खड़ा नहीं किया था। इसमें कोई शक नहीं है कि महाराष्ट्र की सरकार श्री हजूर साहिब की कमेटी में दखल देती है।

पिछली बार भी उन्होंने विधायक तारा सिंह को प्रधान बना दिया था। तब भी पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल और मैंने लगातार विरोध दर्ज कराया था, लेकिन बाद में मामला शांत हो गया था। उन्होंने कहा कि किसी भी सरकार को धार्मिक भावनाओं से जुड़े मसलों में दखलअंदाजी नहीं करनी चाहिए। 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Jathedar Makkad, former Chairman of SGPC, targeted on Manjinder Singh Sirsa

More News From punjab

Next Stories
image

free stats