image

लुधियाना: फर्म की रजिस्ट्रेशन कैंसिल करवाने का नोटिस देकर 5 लाख रुपए रिश्वत मांगने के आरोपी ईटीओ को विजीलैंस ब्यूरो ने पहली ही किस्त 50,000 रुपए लेते दबोचा गया। आरोपी ईटीओ का नाम अमरदीप सिंह नंदा है। विजीलैंस ने आरोपी के खिलाफ भ्रष्टाचार निरोधक एक्ट का मामला दर्ज किया है।  

शिकायतकत्र्ता उमेश ने विजीलैंस ब्यूरो को दी गई शिकायत में बताया कि वह धागे व कपड़े की ट्रेडिंग का काम करता है। उसके ताया व दादा, उमेश स्पिनिंग प्राइवेट लिमिटेड के डायरैक्टर हैं, जबकि फर्म का कामकाज वह ही देखता है। पिछले साल दिवाली से पहले ई.टी.ओ. नंदा ने उनकी फर्म का जी.एस.टी. कैंसिल कर दिया। उमेश ने ई.टी.ओ. को सारे कागजात दिखाए लेकिन वह संतुष्ट नहीं हो पाया, जिस पर नंदा के ऑर्डरों के खिलाफ उमेश पक्ष ने जी.एस.टी., डी.टी.सी. (पटियाला) के पास अपील कर दी। इस पर जिला टैक्सेशन कमिश्नर द्वारा दोनों पक्षों को अपना पक्ष रखने के लिए बुलाया गया। उमेश का कहना है कि उनकी फर्म जलधारा कोट स्पिनिंग प्राइवेट लिमिटेड के नाम से कोहाड़ा में भी फर्म है, जिसमें कुछ समय से मैन्यूफैक्चरिंग नहीं हो रही। इसी का बहाना बनाकर ई.टी.ओ. ने ये नोटिस जारी किया। 

उमेश का कहना है कि वह ई.टी.ओ. नंदा के पास गया और उसे इस परेशानी का हल निकालने के लिए कहा। उसका आरोप है कि नंदा ने उससे 15 लाख रुपए मांगे लेकिन बाद में सौदा 5 लाख रुपए में तय हो गया। मंगलवार को तय सौदे की 50,000 रुपए की किस्त उसे देनी थी लेकिन वह रिश्वत नहीं देना चाहता था, इसलिए उसने इस बारे में विजीलैंस को शिकायत दे दी। विजीलैंस ब्यूरो की टीम उमेश के साथ गई तथा 50,000 रुपए के नोटों पर निशान लगाए गए। जब उमेश ने ई.टी.ओ. नंदा से बात की तो पहले नंदा ने उसे कहा कि वह उसके व्हाट्सएप्प पर कॉल करेगा और बताएगा कि ये रुपए उसने किस दुकानदार को पकड़वाने हैं लेकिन फिर बाद में ई.टी.ओ. ने खुद ही ये 50,000 रुपए रिश्वत के ले लिए। इस पर विजीलैंस ब्यूरो ने उसे गिरफ्तार कर लिया।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: ETO Arrested for bribe

More News From punjab

Next Stories
image

Auto Expo Amritsar 2019
Auto Expo Amritsar 2019
free stats