image

श्रीनगरः भारतीय सेना ने मंगलवार को कहा कि उसने 14 फरवरी को पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए हमले के 100 घंटे के भीतर ही जैश-ए-मोहम्मद (जेईएम) के नेतृत्व का सफाया कर दिया, जिसने उस घातक नरसंहार की योजना बनाई थी और उसे अंजाम दिया था।

15 कॉर्प्स कमांडर के लेफ्टिनेंट जनरल के. एस. ढिल्लों ने जम्मू एवं कश्मीर में एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में यह कहा। उन्होंने यह भी साफ कर दिया कि पुलवामा हमले को पाकिस्तान की धरती से संचालित जेईएम ने आईएसआई और पाकिस्तानी सेना के सहयोग से अंजाम दिया था।

मोदी ने देश को दिया एक और तोहफा, विकास की ओर एक कदम

ढिल्लों ने कहा, ‘‘पुलवामा आतंकी हमले के 100 घंटे के भीतर ही हमने कश्मीर घाटी में जेईएम पर कड़ा प्रहार किया है, जिसे पाकिस्तान स्थित जेईएम द्वारा संचालित किया जा रहा है।’’ राज्य में आंतकवादी गतिविधियों से सहानुभूति रखने वालों को कड़ी चेतावनी देते हुए उन्होंने कहा, ‘‘कश्मीर में जो कोई भी बंदूक उठाएगा उसका सफाया कर दिया जाएगा, जब तक कि वह आत्मसमर्पण न कर दे।’’

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: indian force took revenge of pulwama attack, many terrorist were killed

IPL 2019 News Update
free stats