image

सुल्तानपुर लोधी: सिख धर्म के संस्थापक श्री गुरु नानक देव की 550वीं जयंती से एक दिन पहले सोमवार को पवित्र नगरी सुल्तानपुर लोधी स्थित ऐतिहासिक गुरुद्वारा बेर साहिब में प्रकाश पर्व मनाने के लिए लाखों श्रद्धालु उमड़ पड़े। बड़ी संख्या में तीर्थयात्री इस पवित्र नगरी में पहुंचे, जहां गुरु नानक देव ने 14 साल बिताए थे और आत्मज्ञान प्राप्त किया था। ऐसा माना जाता है कि गुरु नानक देव ‘काली बेईं’ में स्नान करते थे और फिर एक ‘बेर’ वृक्ष के नीचे ध्यान लगाते थे। 

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर और हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने भी सोमवार को यहां के ऐतिहासिक सिख तीर्थस्थल पहुंचकर दर्शन किए। गुरदासपुर के डेरा बाबा नानक में दरबार साहिब, अमृतसर में स्वर्ण मंदिर और हरियाणा के पंचकूला में नाडा साहिब में भी इसी तरह श्रद्धालुओं की भारी भीड़ लगी रही। शिरोमणि अकाली दल के वरिष्ठ उपाध्यक्ष दलजीत सिंह चीमा ने कहा कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, गृह मंत्री अमित शाह, पंजाब के राज्यपाल वी.पी. सिंह बदनौर मंगलवार को यहां दर्शन के लिए आएंगे। 

गुरदासपुर से यहां पहुंचे 70 साल के जरनैल सिंह ने कहा, ‘मैंने गुरु नानक देव की 550वीं जयंती समारोह के अवसर पर गुरुद्वारा बेर साहिब में माथा टेका। यह एक बार आने वाला अवसर है, जिसे मैं छोड़ना नहीं चाहता था।’  

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: 550th Birth Anniversary of Shri Guru Nanak Dev

More News From punjab

Next Stories
image

free stats