image

जालंधर: भाजपा के राष्ट्रीय सचिव तरुण चुघ ने पुलवामा में आतंकी हमले के बाद आज यहां कहा कि नवजोत सिंह सिद्धू इस मामले में इमरान के दोस्त की भूमिका ज्यादा और भारत के बेटे की भूमिका कम निभा रहे हैं। तरुण चुघ शुक्र वार को होटल रमाडा में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। वह ‘भारत के मन की बात-मोदी के साथ’ अभियान बारे जानकारी देने के लिए पहुंचे थे। 

उन्होंने कहा है कि सेना के जवानों के शहादत के बाद उनकी चिता की अग्नि ठंडी भी नहीं हुई थी कि नवजोत सिंह सिद्धू पाकिस्तान की मार्कीटिंग कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा और केंद्र सरकार का स्टैंड इस मामले में क्लियर है। उन्होंने सेना को आतंकवाद के मामले में खुली छूट दी है। आर्मी चीफ ने भी स्पष्ट कह दिया है कि हथियार उठाने वाले मार दिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि ऑपरेशन ऑल आऊट हो या सर्जिकल स्ट्राइक सरकार ने सेना को आतंकवाद के खात्मे के लिए सेना को खुली छूट दी है।

जैश-ए-मोहम्मद की बात करते हुए उन्होंने कहा कि आतंकवाद के खिलाफ सेना कितनी सख्त है, उसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि हमले के मास्टरमाइंड गाजी को 3 दिन में ही सेना ने मार गिराया जिसे कई देशों की पुलिस ढूंढ रही थी। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि नवजोत सिंह सिद्धू हो, सुखपाल खैहरा हो या फिर कमल हसन इनके बयानों को किसी भी तरह से न्यायसंगत करार नहीं दिए जा सकता। उन्होंने कहा कि ऐसे में स्पष्ट है कि सेना सिर्फ आतंकवाद से ही लड़ाई नहीं लड़ रही बल्किवैचारिक लड़ाई भी लड़ रही है।

उन्होंने स्पष्ट कहा कि इस मामले में राजनीति नहीं होनी चाहिए। पुलवामा हमले के बाद देश में कश्मीरी विद्यार्थियों पर होने वाले हमले व धमकियों को लेकर एक सवाल के जवाब में तरु ण चुघ ने कहा कि कश्मीरी विद्यार्थी हो या किसी भी राज्य के विद्यार्थी उन्हें निशाना नहीं बनाया जाना चाहिए। भाजपा ऐसी घटनाओं की निंदा करती है।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Siddhu Imran's friend's role is more and India's son's role is less: Tarun Chugh

More News From punjab

free stats