image

सुल्तानपुर लोधी: बाढ़ प्रभावित गांवों की जमीनी स्थिति का हफ्ते में दूसरी बार जायजा लेते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ऐलान किया कि विश्व बैंक और एशियाई विकास बैंक की तकनीकी सहायता से राज्य की सभी नदियों के किनारों को नहरों की तर्ज पर बांधा जाएगा। मुख्यमंत्री कपूरथला की सब-तहसील सुल्तानपुर लोधी में गांव सरूपवाल गए, जहां पानी का स्तर बढ़ने के कारण धुस्सी बांध में दरार पड़ गई थी और 62 गांवों को इसकी मार झेलनी पड़ी।

Read More  एक और तगड़ा झटका देने की तैयारी में ट्रंप, इस नागरिकता को कर सकते हैं समाप्त

मुख्यमंत्री ने पानी का स्तर घटने के तुरंत बाद विशेष गिरदावरी करवाकर प्रभावित किसानों को बनता मुआवजा देने का वायदा किया। इसी दौरान मुख्यमंत्री ने ड्रेनेज के चीफ इंजीनियर संजीव गुप्ता को शाहकोट सब-डिविजन में पड़ी दरार को भरे जाने तक लोहियां स्टेशन न छोड़ने के हुक्म दिए।

Read More पाकिस्तान का अब अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा पर एक्शन, UNICEF को लिखा पत्र

सुल्तानपुर लोधी और जालंधर के इलाकों में बाढ़ से हुए नुकसान का जायजा लेने के लिए हवाई सर्वेक्षण करने के बाद पत्रकारों के साथ बातचीत करते हुए मुख्यमंत्री ने ऐलान किया कि नदियों के बहाव के रास्ते जरूरत के अनुसार तबदील किए जाएंगे और इसके अलावा नदियों के किनारों को भी मजबूत और चौड़ा किया जाएगा, जिससे बाढ़ की समस्या का स्थाई हल किया जा सके।

Read More दिन में अगर आप इतने घंटे तक बैठे रहते हैं, तो मंडरा रहा है मौत का खतरा

कैप्टन अमरिंदर सिंह ने प्रभावित इलाकों में ग्रामीण स्तर पर समर्पित राहत टीमें बनाकर तैनात करने का भी ऐलान किया। हरेक टीम स्वास्थ्य, सिविल सप्लाई और पशुधन विभागों के अधिकारियों पर आधारित होगी। कपूरथला के डिप्टी कमिश्नर ने मुख्यमंत्री को बताया कि सेना और एन.डी.आर.एफ की मदद से बीते दिन सूखे राशन के 18 हजार पैकेटों के अलावा पानी की बोतलें बाढ़ प्रभावित गांवों में हैलीकॉप्टरों के द्वारा मुहैया करवाए गए और पांच हजार पैकेट आज मुहैया करवाए जा रहे हैं।

Read More सुरक्षा बलों ने तालिबान ठिकानों पर किए हवाई हमले, 18 आतंकवादी ढेर

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Punjab's Rivers Will Be Decided On The Lines Of Cities: Captain Amarinder

More News From punjab

Next Stories
image

Auto Expo Amritsar 2019
Auto Expo Amritsar 2019
free stats