image

करतारपुर : करतारपुर-कपूरथला रेलवे फाटक के पास मंगलवार को दोपहर 12.30 बजे के करीब बिजली की तारें ठीक कर रहे एक प्राइवेट लाइनमैन की तारों में करंट आ जाने से मौत हो गई। उसके साथ कार्य कर रहे कर्मचारियों ने तुरंत ही उसे करतारपुर सिविल अस्पताल पहुंचाया पर डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। उसकी पहचान सुखदेव सिंह पुत्र सुखजिंदर सिंह वासी बंबियावाल, जालंधर कैंट हाल निवासी गांव मल्लियां के रूप में बताई गई है जोकि अपनी बुआ के घर रह रहा था व प्राइवेट कंपनी के लिए कार्य कर रहा था। 

पावरकॉम के मुलाजिम होशियार सिंह ने बताया कि वह भी साथ कार्य कर रहे थे पर पता नहीं कहां से अचानक करंट आ गया। उधर जेई बलजीत सिंह ने बताया कि उन्होंने परमिट 11 बज कर 45 मिनट पर लिया था जो कि भूषण कुमार लेकर आए थे। बिजली की सप्लाई पीछे से बंद कर दी थी, जब पता चला तो तुरंत ही वह सुखदेव सिंह को अस्पताल में साथियों सहित लेकर आए। उधर मौत की खबर का पता चलते ही सिविल अस्पताल में परिजन व रिश्तेदार पहुंचे जिनका रो-रो कर बुरा हाल था व उन्होंने पावरकॉम के पक्के मुलाजिमों पर आरोप भी लगाए कि वह खुद तो कार्य करते नहीं थे और प्राइवेट लाइनमैनों से ही कार्य करवाते थे जिसका यह नतीजा है कि हमने अपना बेटा खो दिया। सुखदेव सिंह शादीशुदा था व उसका तलाक हो चुका था। 

उधर मौके पर पहुंचे एसडीओ वन मदन लाल ने बताया कि जे.ई. व कर्मचारियों ने मुरम्मत करने का परमिट लिया हुआ था। उन्होंने आशंका जताई कि हो सकता है किसी ने जैनरेटर चला दिया हो जिसका करंट पीछे से आ गया हो व करंट लग गया हो। मौके पर पहुंचे जीआरपी चौकी इंचार्ज जतिंदरपाल सिंह ने जे.ई. व कर्मचारियों से पूछताछ की। इस संबंध में मृतक के जीजा अशोक कुमार ने बताया कि प्राइवेट मुलाजिम को 6500 रुपए वेतन देते हैं व धक्के से ज्यादा काम करवाते हैं। सप्ताह में एक भी छुट्टी नहीं देते व ज्यादा काम लेते हैं। चौकी इंचार्ज जतिंदरपाल सिंह ने बताया कि मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए जालंधर भेजा जा रहा है और आगे जांच जारी है।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: private lineman death reports on contractor including nine

More News From punjab

free stats