image

फिरोजपुर : पंजाब की 7 हाई सिक्योरिटी जेलों के अंदर कोर्ट रूम स्थापित किए जा रहे हैं, जहां जल्द ही अदालत लगाने की कार्रवाई शुरू होगी। यह कदम खतरनाक अपराधियों को जेल से बाहर ले जाने से रोकने के लिए उठाया गया है। इन कैदियों की पेशी जेल के अंदर स्थापित कोर्ट में ही होगी और वहीं पर हर हफ्ते कोर्ट लगा करेगी। उपरोक्त विचार पंजाब के जेल व सहकारिता मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा ने बुधवार को फिरोजपुर डीसी काम्पलैक्स में पत्रकारों से बातचीत में व्यक्त किए। 

सुखजिंदर रंधावा ने कहा कि पटियाला, कपूरथला, अमृतसर, बठिंडा, फरीदकोट, संगरूर और नाभा की हाई सिक्योरिटी जेल में कोर्ट रूम स्थापित किए जा रहे हैं जिसका नोटिफिकेशन भी जारी हो चुका है। पंजाब में कैप्टन सरकार बनने के बाद जेलों की सुरक्षा के लिए कई कदम उठाए गए हैं। जेलों में 1,500 मुलाजिमों की कमी थी जिसमें से 750 भर्ती कर लिए गए थे। शेष 750 में से 450 मुलाजिमों को भर्ती करने की मंजूरी सरकार की तरफ से मिल चुकी है और जल्द ही ये भर्तियां भी कर दी जाएंगी। इसके अलावा अर्धसैनिक बलों की 3 टुकड़ियां जल्द ही जेलों की सुरक्षा के लिए तैनात की जाएंगी और इसके बाद 3 अन्य टुकड़ियों की तैनाती होगी। 

उन्होंने कहा कि जेलों में निगरानी कड़ी करने के लिए सीसीटीवी और ड्रोन कैमरों का इस्तेमाल किया जाएगा जिसके तहत दिन-रात निगरानी होगी। इसी तरह जेलों में पोर्टेबल जैमर सिस्टम लगाए जाएंगे, जिससे जेल के अंदर मोबाइल सिग्नल पूरी तरह से प्रतिबंधित होंगे। जेलों में हरेक बैरक के बाहर पी.सी.ओ. लगाने के लिए बीएसएनएल के साथ करार किया जा रहा है जिसके तहत प्रत्येक कैदी/हवालाती को दिन में 8 मिनट तक किन्हीं दो नंबरों पर बात करने की सुविधा मिलेगी। कैबिनेट मंत्री ने कहा कि पंजाब सरकार ने नशे की कमर तोड़ने के लिए कई बड़े कदम उठाए हैं और बड़ी तादाद में तस्करों को गिरफ्तार करके जेलों में बंद किया है। इसके अलावा लोगों को जागरूक करने के लिए मुहिम अलग से चलाई जा रही है।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Sukhjinder Randhawa statement on High Security jail 

More News From punjab

Next Stories

image
free stats