image

चंडीगढ़ : पाकिस्तान द्वारा आज भारत के साथ अपने कूटनीतिक रिश्तों में कमी करने के फैसले के बाद करतारपुर कॉरिडोर का मामला खटाई में पड़ता नजर आ रहा है। पाकिस्तान सरकार ने बुधवार शाम ऐलान कर दिया कि वह भारत के साथ द्विपक्षीय व्यापारिक रिश्ते खत्म कर रहा है और भारत के उच्चयुक्त को भारत लौटने के लिए कह रहा है। इसके अलावा पाकिस्तान के विदेश मंत्री ने कहा है कि वह भारत में अपना उच्चायुक्त नहीं भेजेगा। भारत द्वारा अनुच्छेद 370 को रद्द करने के बाद पाकिस्तान की सरकार तिलमिला उठी है और भारत के साथ अपने हर प्रकार के संबंध खत्म करने के लिए कह रही है। कुछ महीने पहले करतारपुर कॉरिडोर का नींव पत्थर रखा गया था और इसके नवंबर तक पूरा होने की उम्मीद थी। 

नवंबर के महीने बहुत सारे श्रद्धालु करतारपुर साहिब गुरुद्वारा की यात्रा करना चाहते हैं, लेकिन अब लग रहा है कि जैसे-जैसे भारत और पाकिस्तान में कश्मीर को लेकर तनाव बढ़ रहा है, इसके बाद करतारपुर कॉरिडोर का मुकम्मल होना नामुमकिन लग रहा है। आज पाकिस्तान की सिक्योरिटी काऊंसिल की मीटिंग हुई, जिसमें भारत के साथ व्यापारिक रिश्ते खत्म करने का फैसला लिया गया और पाकिस्तान से भारत के उच्चयुक्त को वापस भेजने का ऐलान भी किया गया। 

गौरतलब है कि नवंबर में गुरु नानक देव का प्रकाश पर्व पंजाब में बड़े जोर-शोर से मनाया जाएगा और इसके लिए बड़े पैमाने पर तैयारी की जा रही है। बहुत सारे सिख श्रद्धालु नवंबर में करतारपुर गुरुद्वारा के दर्शनों के लिए जाना चाहते हैं। करतारपुर पाकिस्तान में स्थित है और डेरा बाबा नानक से करीब 5 किलोमीटर है, इसीलिए डेरा बाबा नानक से करतारपुर के लिए कॉरिडोर बनाया जा रहा है। पाकिस्तान में इस पर काफी काम हो चुका है और भारत में भी इस पर काम बड़े जोर-शोर से चल रहा है।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Pakistan decision on Kartarpur corridor

More News From punjab

Next Stories
image

Auto Expo Amritsar 2019
Auto Expo Amritsar 2019
free stats