image

चंडीगढ़: केंद्र सरकार की तरफ से गठित ट्रिब्यूनल की तरफ से सिख फॉर जस्टिस (एसएफजे) को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। जानकारी के लिए बता दें, कि केंद्र सरकार ने एसएफजे को गैरकानूनी एसोसिएशन खुले आम थी और 10 जुलाई, 2019 को इस बारे नोटिफिकेशन जारी किया गया था। अब, एसएफजे को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है कि इस संगठन को क्यों न गैरकानूनी घोषित कर दिया जाए और क्यों न इस बारे फैसला करते सरकार के इस संबधिंत ऐलान की पुष्टि कर दी जाए।

Read More Man vs Wild: मोदी और बेयर ग्रिल्स के एपिसोड ने बनाया नया रेकॉर्ड, टीवी की दुनिया में बना टॉप ट्रेंडिंग

Read More पाकिस्तान को लगा बड़ा झटका, FATF ने किया ब्लैक लिस्ट

एसएफजे को इस नोटिस के तामील होने की तारीख से 30 दिनों के अंदर अपना जवाब दायर करन को कहा गया है। यह संगठन अपने ऐतराज/जवाबदाअवा आगे वाली पेशी से पहले कमरा नंबर -104, पहली मंजिल, ए ब्लाक, दिल्ली हाई कोर्ट, शेर शाह मार्ग, नई दिल्ली में दाखिल कर सकता है।

Read More  एक और तगड़ा झटका देने की तैयारी में ट्रंप, इस नागरिकता को कर सकते हैं समाप्त

Read More यात्री वाहन और ट्रक के बीच हुई जबरदस्त टक्कर, 17 लाेगाें की मौत

जिक्रयोग्य है, कि केंद्र सरकार ने 7 अगस्त, 2019 को दिल्ली हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस डीएन पटेल का नेतृत्व में इस ट्रिब्यूनल का गठन किया था, जिस ने फैसला करना है कि एसएफजे को गैरकानूनी संगठन ऐलान के लिए क्या उचित कारण मौजूद हैं। इस के अलावा एसएफजे को इस ट्रिब्यूनल सामने 20 -09 -2019 को प्रातःकाल 9:30 बजे कोर्ट रूम नं -01,'ए'ब्लाक, दूसरी मंजिल, दिल्ली हाई कोर्ट, शेर शाह मार्ग, नई दिल्ली -110503 में निजी तौर पर पेश होने का भी निर्देश दिया गया है।


 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Notice Issued To Sikh For Justice From Tribunal

More News From punjab

Next Stories
image

free stats