image

चंडीगढ़: पंजाब के सियासी झंझावत में फंसे कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू निराशा के आलम में हैं और शांति के लिए एक बार फिर माता वैष्णो देवी की शरण में पहुंच गए हैं। सिद्धू ने 3 जुलाई को माता के दरबार में हाजिरी लगाई और वह 9 जुलाई तक माता की आराधना में लीन रहेंगे। 

उधर, राज्य में बतौर बिजली मंत्री विभाग न संभालने के कारण सिद्धू के मसले को लेकर मुख्यमंत्री से लेकर हाईकमान तक दुविधा में नजर आ रहा है। 9 जून से ट्विीटर से नदारद नवजोत सिंह सिद्धू के बारे में ताजा जानकारी मिली है कि वह माता वैष्णो देवी की शरण में पहुंच गए हैं। वह सुबह और शाम यहां होने वाली दिव्य आरती में हिस्सा ले रहे हैं और माता की भक्ति में लीन हैं। सिद्धू गत 3 जुलाई को मां वैष्णो देवी के दरबार पहुंचे थे। सिद्धू ने बताया कि वह 9 जुलाई तक यानी एक सप्ताह तक मां की सेवा में लीन रहेंगे। भवन में रहकर वह मां वैष्णो देवी के दरबार में सुबह व शाम को होने वाली दिव्य आरती में शामिल हो रहे हैं। अन्य भक्तों की तरह वह मां वैष्णो देवी की पवित्र पिंडियों की विधिवत पूजा-अर्चना के बाद दिन की शुरूआत कर रहे हैं। सिद्धू भवन परिसर में किसी से बातचीत नहीं कर रहे हैं और फोटो खिंचवाने में भी हिचक रहे हैं। आराधना और पूजा-अर्चनाके बाद सिद्धू अपने होटल के कमरे में जाते हैंऔर वहां माता के भजन सुनते हैं। 

सिद्धू का कहना है कि जब कभी उन्हें परेशानी आती है या फिर उनका मन विचलित होता है तो उन्हें मां के चरणों में पहुंच कर शांति और तृप्ति की अनुभूति होती है। मां ने भी उन्हें हमेशा प्यार दिया है। उनकी परेशानियों को दूर किया। मां के दरबार पहुंचने पर ही उन्हें मन में इच्छाशक्ति के तीव्र संचार की अनुभूति होती है। यही वजह है कि वह बार-बार मां के पास आते हैं।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Navjot Singh Sidhu at Mata Vaishno Devi Temple

More News From punjab

Next Stories
image

free stats