image

चंडीगढ़: लोकसभा चुनाव के अंतिम पड़ाव में रविवार को जिन 59 क्षेत्रों में चुनाव होने वाले हैं, उनमें पंजाब की 13 तथा हिमाचल की 4 सीटों के अतिरिक्त चंडीगढ़ की एकमात्र सीट भी शामिल है। सातवें तथा अंतिम पड़ाव में चंडीगढ़, मंडी, हमीरपुर, गुरदासपुर, पटियाला तथा बठिंडा जैसी वे सीटें ही शामिल हैं जिन्हें कुछ लोग हॉट सीट कह रहे हैं तथा कुछ की नजरों में ये वीआईपी सीटें बनी हुई हैं तथा कुछ इन सीटों को सैलीब्रिटी सीट्ज़ भी कह रहे हैं। 

चंडीगढ़ ऐसी सीट है, जहां से एक बार फिर से पार्टी ने अपनी मौजूदा सांसद किरण खेर को मैदान में उतारा है। पिछली बार 2014 में कांग्रेस प्रत्याशी पवन कुमार बंसल को किरण खेर ने 70,000 से भी अधिक मतों से पराजित किया था लेकिन उस वक्त आप प्रत्याशी गुलपनाग को भी 1 लाख से अधिक मत मिले थे। इस बार भी आप प्रत्याशी हरमोहन धवन अवश्य ही चुनाव लड़ रहे हैं, लेकिन उनकी चुनौती उतनी बड़ी नहीं है। इसका लाभ कांग्रेस प्रत्याशी पवन बंसल को ही मिलेगा तथा किरण खेर का पांच वर्ष तक टीवी तथा फिल्मों में रह कर अपने क्षेत्र की अवहेलना करने का परिणाम भी उनको भुगतना पड़ सकता है।  
हिमाचल प्रदेश की मंडी सीट से जहां पूर्व केंद्रीय मंत्री पंडित सुखराम के पौत्र आश्रय शर्मा कांग्रेस टिकट से चुनाव लड़ रहे हैं, वहीं हमीरपुर से पूर्व मुख्यमंत्री प्रो. प्रेम कुमार धूमल के पुत्र तथा मौजूदा सांसद अनुराग ठाकुर बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं। 

इन्हीं दोनों ही वरिष्ठ नेताओं के परिवारों की प्रतिष्ठा दांव पर होने के चलते ही इन दोनों सीटों को वीआईपी सीटें माना जा रहा है। हालांकि मंडी क्षेत्र को एक मुख्यमंत्री तथा एक पूर्व मुख्यमंत्री की प्रतिष्ठा के साथ जोड़ कर भी देखा जा रहा है। मंडी से ही हिमाचल के मौजूदा मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर आते हैं तथा यहीं से पूर्व मुख्यमंत्री राजा वीरभद्र सिंह भी आते हैं। अगर भाजपा यहां से चुनाव जीतती है तो भाजपा प्रत्याशी के साथ-साथ इस जीत का श्रेय मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को भी जाएगा तथा अगर जीत आश्रय शर्मा को मिलती है तो इसका सेहरा पंडित सुख राम तथा राजा वीरभद्र सिंह के सिर पर संयुक्त रूप से बंधेगा। इसी प्रकार अगर हमीरपुर से अनुराग ठाकुर चुनाव नहीं जीत पाते तो धक्का केवल अनुराग ठाकुर को नहीं लगेगा, बल्किउनके पिता प्रो. प्रेम कुमार धूमल की भी किरकरी होगी।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Lok Sabha Elections 2019

More News From punjab

IPL 2019 News Update
free stats