image

चंडीगढ़: पंजाब की तेरह लोकसभा सीटों तथा संघ शासित क्षेत्र की एकमात्र चंडीगढ़ लोकसभा सीट पर आज शाम छह बजे चुनाव प्रचार का शोर थम जायेगा।चुनाव प्रचार की समय सीमा समाप्त होने के बाद प्रत्याशी जनसभायें, रैलियां आदि नहीं कर सकेंगे। प्रत्याशी अब घर -घर जाकर ही मतदाताओं से संपर्क करेंगे। पंजाब की तेरह सीटों में से बठिंडा, फिरोजपुर, पटियाला, संगरुर, अमृतसर तथा गुरदासपुर सीटें प्रतिष्ठित सीटें मानी जा रही हैं तथा फरीदकोट, आनंदपुर साहिब, फतेहगढ़ साहिब, खडूर साहिब, होशियारपुर, जालंधर तथा फिरोजपुर हैं जिन पर कांग्रेस तथा अकाली दल-भाजपा गठबंधन की सीधी टक्कर है लेकिन संगरुर सीट पर आम आदमी पार्टी कांग्रेस तथा अकाली दल को टक्कर दे रही है।

चंडीगढ लोकसभा सीट पर मुख्य मुकाबला कांग्रेस के पूर्व मंत्री पवन बंसल तथा भारतीय जनता पार्टी की निवर्तमान सांसद किरण खेर के बीच है। आम आदमी पार्टी की टिकट पर पूर्व केंद्रीय मंत्री हरमोहन धवन भी मुकाबले में हैं । दो दिन पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की जनसभा को संबोधित किया था। इसके अलावा किरण खेर के पति अभिनेता अनुपम खेर उनके लिए प्रचार करने में जुटे हैं। बंसल के पक्ष में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, आनंद शर्मा सहित कई बड़े नेताओं ने प्रचार किया। धवन के लिये आप पार्टी के संजय सिंह ने वोट मांगे। इसके अलावा चंडीगढ़ आवाज पार्टी के अविनाश शर्मा भी चुनाव मैदान में हैं। 

पंजाब के मुख्य चुनाव अधिकारी डाएस करुणा राजू ने यहां बताया कि चुनाव प्रचार मतदान के 48 घंटे पहले चुनाव बंद हो जायेगा। यह समय शुरु होते ही उम्मीदवारों के समर्थन में प्रचार करने के लिए बाहर से आए नेताओं / पार्टी कार्यकर्ताओं को क्षेत्र से बाहर जाना पड़ेगा। डा. राजू ने बताया कि इन चुनाव आयोग के आदेशों की पालना के लिए सिविल और पुलिस प्रशासन को ज़रुरी हिदायतें जारी कर दी गई हैं जिससे आयोग की हिदायतों को यथावत लागू किया जा सके। ये आदेश चुनाव लड़ रहे उम्मीदवारों पर लागू नहीं होंगे। उन्होंने कहा कि मतदान से 48 घंटे पहले रेडियो और टेलीविजन पर होने वाले प्रचार पर भी रोक लग जायेगी।  
 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Lok Sabha Election Punjab 2019 Election Campaign

More News From punjab

Next Stories
image

free stats