image

चंडीगढ़: जी.एम.सी.एच. 32 के जनरल सर्जरी विभाग के सर्जनों ने 40 वर्षीय एक बोरवैल मैकेनिक की बोरवैल की खुदाई करते समय अचानक दोनों पैरों के कट जाने के बाद सर्जरी कर दोनों पैरों को फिर से जोड़ कर इतिहास रच दिया है। उक्त मरीज को 8 जुलाई को सुबह 10 बजे जी.एम.सी.एच. एमरजैंसी में लाया गया था। इस दौरान मरीज की हालत काफी नाजुक थी, लेकिन चिकित्सकों मरीज की हालत को देखते हुए और परिजनों की ओर से मौके पर कटे दोनों पैरों को साथ में लेकर आने पर बिना समय गंवाए चिकित्सकों ने सर्जरी करने का फैसला किया। 

Read More  कुलभूषण मामलें में पाकिस्तान ने खर्च कर दिए करोड़ो रुपए, भारत ने सिर्फ 1 रुपए में लड़ा केस

सर्जरी विभाग के चिकित्सकों के साथ वस्कुलर सर्जन, आर्थो सर्जन व प्लास्टिक सर्जन ने मिलकर मरीज की सर्जरी शुरू की जो 10 घंटे तक चली। इस सर्जरी में पूरी टीम वर्क के तहत दोनों कटे पैरों को फिर से जोड़ दिया। इसमें बाएं पांव मात्र टांग की त्वचा से ही जुड़ा हुआ था, जबकि दूसरा पांव पूरी तरह से अलग हो गया था। इस सर्जरी को डा. रोहित जिंदल, डा. सिद्धार्थ गर्ग व डा. मितेश बेदी ने अंजाम दिया। डाक्टरों ने दोनों पैरों को जोड़ने के साथ उसकी हड्डियों को रिपेयर किया, सभी खून की नसों, नर्व, मसल्स एवं टेंडन आदि को रिपेयर कर गंभीरता के साथ जोड़ा गया। उक्त मरीज की सर्जरी पूरी तरह से सफल रही है। अब मरीज के दोनों पैरों में हलचल हो रही है। 

Read More  कर्नाटक का फ्लोर टेस्ट आज, बचेगी या जाएगी कुमारस्वामी सरकार ?

इस बारे में डा. सिद्धार्थ गर्ग ने बताया कि मरीज चंद माह में सामान्य रूप से चलने योग्य हो जाएगा। उन्होंने कहा कि परिजन मरीज को एक घंटे के अंदर ही अस्पताल लेकर आए और साथ में जो अंग कटे हुए थे उन्हें भी पालीथिन में साथ लेकर आए जिस पर चिकित्सकों ने भी समय न गंवाते हुए दोनों पैरों को सर्जरी कर जोड़ दिया। इस प्रकार की सर्जरी जी.एम.सी.एच. में पहली बार हुई है। उन्होंने बताया कि इस प्रकार के रियर केस सामने आने पर उसे बचाना सबसे बड़ी चुनौती होती है और इसे सफल रूप से अंजाम दिया गया। उन्होंने बताया कि इस प्रकार की बोन सर्जरी पी.जी.आई. में भी काफी लंबे समय से नहीं हुई है। इस प्रकार के केस बहुत कम सामने आते हैं।उन्होंने बताया कि मरीज के पैरों को सामान्य करने के लिए भविष्य में कुछ और सर्जरी की जाएंगी।
 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Doctors doubled their legs after 10 hours of surgery

More News From punjab

Next Stories
image

free stats