image

चंडीगढ़: शिरोमणि अकाली दल (शिअद) ने मोगा में कल पंजाब सरकार के कार्यक्रम को कांग्रेस की ‘राजनीतिक‘ रैली करार देते हुए इसमें सरकारी निधि के दुरुपयोग का आरोप लगाते हुए इसकी जांच की मांग की। शिअद प्रवक्ता डा. दलजीत सिंह चीमा ने इस संदर्भ में मुख्य सचिव को पत्र लिखकर कहा है कि सरकारी खजाने से इस तरह ‘लूट‘ की अनुमति नहीं दी जा सकती व सरकार में जनता के विश्वास को बनाये रखने के लिए तुरंत सुधारात्मक उपाय किए जाने चाहिएं। 

पत्र की प्रति केंद्रीय चुनाव आयोग व राज्य चुनाव आयोग को भी भेजी गई है तथा मांग की गई है कि कर्ज माफी कार्यक्रम की आड़ में कांग्रेस पार्टी की राजनीतिक रैली की अनुमति देने वाले अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की जाये। डा. चीमा ने कहा कि रैली स्थल पर कांग्रेस पार्टी के बैनर जिनमें ‘मिशन - 13‘ का जिक्र था, राजनीतिक भाषण जिनका उद्देश्य लोकसभा चुनाव में वोट जुटाना था, स्पष्ट करते हैं कि यह कोई सरकारी कार्यक्रम नहीं बल्कि कांग्रेस की चुनाव रैली थी।

शिअद नेता ने यह भी आरोप लगाया कि रैली स्थल पर यूथ कांग्रेस के लगाये पोस्टरों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रति ‘अपमानजनक‘ टिप्पणियां की गई थीं व राज्य सरकार के कार्यक्रम में प्रधानमंत्री पद का अपमान नहीं किया जा सकता। उन्होंने कहा कि इसकी भी जांच करवाई जानी चाहिये व कार्रवाई की जानी चाहिए।

डा चीमा ने चेक वितरण के लिए किसानों को घंटों बैठाने व राजनीतिक भाषण सुनाने के तरीके की भी आलोचना की व मुख्य सचिव को लिखा है कि प्रशासन की तरफ से खर्च की गई रकम कांग्रेस को सरकारी खजाने को लौटाने के निर्देश दिये जायें और यह भी सुनिश्चित किया जाये कि भविष्य में पार्टी की रैलियों पर सरकारी निधि से खर्च न हो। 
 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Daljit Singh Cheema

free stats