image

चंडीगढ़ : पंजाब को वाटर रैगुलेटरी अथारिटी बनाने के लिए अकाली दल से बड़ा सहयोग मिला है। अकाली दल के पूर्व एम.पी. प्रेम सिंह चंदूमाजरा ने आज कहा कि पंजाब सरकार का आथरिटी बनाने का फैसला सराहनीय है और यह पंजाब के हित में है। अकाली दल इस फैसले का स्वागत करता है और अथारिटी बनाने के मामले में सरकार को पूर्ण सहयोग देगा। 

लेकिन पंजाब सरकार को ऑल पार्टी मीटिंग बुलाने से पहले पानी के मुद्दे पर एक व्हाइट पेपर जारी करना चाहिए। इस पेपर के जरिये लोगों को बताना चाहिए कि पंजाब में इस समय भूजल की क्या स्थिति है। इसके बारे में सभी तथ्य लोगों के सामने रखने चाहिए। कहा जा रहा है कि पंजाब अगले 20 वर्षो में रेगिस्तान जैसा राज्य बन जाएगा। इसके बारे में भी लोगों में चल रही चर्चा के बारे में सरकार को सही स्थिति बतानी चाहिए। 

चंदूमाजरा ने कहा कि पंजाब नदियों की धरती है, लेकिन इस धरती का रेगिस्तान बन जाना सबके लिए चिंता का विषय है। सरकार भूजल को बचाने के लिए क्या करेगी, इस बारे में क्या कदम उठाएगी, ये भी लोगों को बताना जरूरी है। कैसे पंजाब का पानी दूसरी राज्यों को चला गया, इसके लिए कौन जिम्मेवार है, यह भी लोगों को बताने की जरूरत है। चंदूमाजरा ने कहा कि उनकी पार्टी हर समय पंजाब में पानी के हक में लड़ाई लड़ती रही है और आगे भी ऐसा करती रहेगी। 

गौरतलब है कि पिछले सप्ताह सरकार ने एक बड़ी मीटिंग बुलाकर वार्टर अथारिटी बनाने का ऐलान किया था। जल्द ही इसके बारे में आल पार्टी मीटिंग होगी जिसमें सबकी सहमति लेने की कोशिश होगी। सरकार ने इसके बारे में एक नई कैबिनेट सब कमेटी का गठन किया है, जिसमें मंत्री ब्रrामो¨हद्रा, सुखविंदर सरकारिया और तृप्त राजिंद्र सिंह बाजवा को लिया गया है। पहले इस कमेटी में नवजोत सिंह सिद्वू थे।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: chandumajra statement in fatehgarh sahib on water regulatory authority

More News From punjab

Next Stories

image
free stats