image

चंडीगढ़ः पंजाब आम आदमी पार्टी (आप) के प्रधान एवं सांसद भगवंत मान ने अमरिंदर सरकार से राज्य के शैलर मालिकों के मसले तुरंत हल करने की मांग की है ताकि मंडियों में किसानों को कोई दिक्कत का सामना न करना पड़े। मान ने आज यहां कहा कि यदि सरकार ने शैलर उद्योग विरोधी नई कस्टम मिलिंग पालिसी पर पुनर्विचार कर शैलर मालिकों की जायज मांगें न मानी तो शैलर-उद्योग हड़ताल करने के लिए मजबूर होगा। सरकार की बेरुखी और बदनीयती के कारण शैलर मालिक धान के सीजन दौरान हड़ताल पर जाते हैं तो इसका सबसे बड़ा नुकसान किसानों को झेलना पड़ेगा और किसानों से ’मंडी माफिया’ लूटपाट करेगा जिसे ’आप’ पार्टी बर्दाश्त नहीं करेगी।

मान ने कहा कि धान खरीद शुरु होने के कारण मंडियों में धान आनी शुरु हो गई है, यदि शैलर मालिक लिफ्टिंग नहीं कर सकेंगे तो इसका सबसे अधिक असर किसानों, लेबर, आढ़ती और ट्रांसपोर्ट पर पड़ेगा। सरकार की व्यापारियों, कारोबारियों और किसान मजदूर विरोधी नीतियों के कारण आज उद्योग और शैलर इंडस्ट्री बंद हो रही है। सरकारी खरीद एजेंसियां शैलर मालिकों का करीब एक हजार करोड़ रुपए का बकाया पिछले साल का दबाए बैठी हैं।

आप नेता के अनुसार सरकार की नीतियों से परेशान शैलर मालिक अपनी, एसोसिएशनों के‘सरकारी प्रधानों’से भी दुखी हैं। उन्होंने खाद्य आपूर्ति मंत्री भारत भूषण आशु से शैलर मालिकों की मांगें अगले दो -चार दिनों में हल करने को  कहा। उन्होंने सरकार को चेतावनी दी है कि यदि सरकार ने शैलर मालिकों की मांगों पर गंभीरता से विचार न किया तो पार्टी इन कारोबारियों को एकजुट कर संघर्ष का बिगुल बजाएगी। 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Bhagwant mann statement on problems of Farmers

More News From punjab

Next Stories
image

free stats