image

इंपाउंड की गई गाड़ी को दूसरी चाबी लगाकर भगा ले जाने के मामले में दोषी को 1 महीने कैद की सजा सुनाई है। लेकिन इससे पहले ही दोषी 1 महीने जेल में बंद रह चुका था। जिस कारण उसकी सजा को अंडरगोन कर दिया गया है। कोर्ट ने उसपर 50 हजार रूपए का जुर्माना लगाया है। जोकि उसे चूकाया है। दोषी की पहचान मोहाली निवासी हरप्रीत सिंह सेठी के रूप में हुई। दर्ज मामले के मुताबिक, 7 अगस्त 2016 को ट्रैफिक पुलिस लाइन में तैनात हेड कांस्टेबल कमल सिंह ने सेक्टर-17 थाने में शिकायत दी थी कि 6 अगस्त की रात को वह अन्य ट्रैफिक पुलिसकर्मियों के साथ सैक्टर16/17 की लाइट प्वाइंट पर नाका लगाकर शराब पीकर गाड़ी चलाने वालों की चैकिंग कर रहे थे।

रात करीब 12:15 पर एक इनोवा गाड़ी नंबर- सीएच01एएच0378 मटका चौंक की तरफ से आती हुई दिखाई दी। जिसे हरप्रीत सिंह सेठी चला रहा था। जब गाड़ी रूकवाकर हरप्रीत के मुंह में अल्कोहल सेंसर लगाकर चेक किया गया तो मीटरमें उसकी रीडिंग 73.6 एमजी आई। कमल ने गाड़ी को इंपाउंड करते हुए सड़क के एक साइड में लगाकर गाड़ी की चाबी अपने पास रख ली। इस दौरान जब सभी पुलिसकर्मी किसी अन्य काम में व्यस्त हो गए तो मौका देखकर हरप्रीत गाड़ी में दूसरी चाबी लगाकर गाड़ी को भगा ले गया। जब हरप्रीत को फोन कर गाड़ी वापस करने के लिए कहा गया तो उसने 15 मिनट का समय मांगा। लेकिन आधे घंटे बाद गाड़ी नाके से 50 मीटर पीछे मिली। इसके बाद हरप्रीत पर चोरी के तहत मामला दर्ज किया गया था।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Penalty fined 50 thousand rupees in case of driving away impound vehicle

More News From chandigarh

Next Stories
image

free stats