image

चंडीगढ़: कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के इस्तीफे के बाद राज्य में उपजे संवैधानिक संकट को देखते हुए सरकार और सिद्धू का रवैया पहली बार थोड़ा नरम हुआ है। कल तक तीखे तेवर अपनाने वाली सरकार ने हाईकमान की मध्यस्थता में इस विवाद का हल तलाशने की अंतिम कोशिशें शुरू कर दी हैं। इसके लिए मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेन्द्र सिंह के सियासी सलाहकार कैप्टन संदीप संधू अगले दो दिन नई दिल्ली में रह कर कांग्रेस के शीर्ष नेताओं से मुलाकात कर संकट का समाधान निकालने की अंतिम कोशिश करेंगे। बताया जाता है कि नवजोत सिद्धू को भी दिल्ली बुलाया गया है। 

Read More  कुलभूषण मामलें में पाकिस्तान ने खर्च कर दिए करोड़ो रुपए, भारत ने सिर्फ 1 रुपए में लड़ा केस

सिद्धू के इस्तीफे के कारण उपजे इस संकट को देखते हुए 18 जुलाई को होने वाली पंजाब कैबिनेट की बैठक को भी रद्द किया गया है। पार्टी सूत्रों के मुताबिक कैबिनेट की बैठक में सदस्यों द्वारा यह मुद्दा उठाना लाजिमी था और इस बात की पूरी संभावना थी कि मंत्रिगण मुख्यमंत्री पर सिद्धू का इस्तीफा राज्यपाल के पास भेजने के लिए दबाव बनाएंगे, इसलिए बैठक ही रद्द कर दी गई। मुख्यमंत्री बुधवार शाम को नई दिल्ली से चंडीगढ़ वापस आ गए हैं। बताया जा रहा है कि आते ही उन्होंने सबसे पहले सिद्धू के इस्तीफे पर नजर डाली है। मुख्यमंत्री को भेजे इस्तीफे में सिद्धू ने कुछ बातें लिखी हैं जिसका मुख्यमंत्री कार्यालय आकलन कर रहा है।

पार्टी सूत्रों का कहना है कि बुधवार की सुबह नई दिल्ली में मुख्यमंत्री कै प्टन अमरेन्द्र सिंह की पार्टी के कुछ शीर्ष नेताओं से बातचीत हुई है। बताया जाता है कि यह कवायद पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी के हस्तक्षेप के बाद शुरू हुई है। इसे देखते हुए मुख्यमंत्री ने अपने सियासी सलाहकार कैप्टन संदीप संधू को अगले दो दिन दिल्ली में रुकने का हुक्म दिया है। संधू अगले दो दिन में पार्टी के शीर्ष नेताओं से मुलाकात कर इस संकट का हल निकालने की आखिरी कोशिश करेंगे।

Read More  कर्नाटक का फ्लोर टेस्ट आज, बचेगी या जाएगी कुमारस्वामी सरकार ?

सूत्रों का यह भी कहना है कि पार्टी के शीर्ष नेताओं ने सिद्धू को दिल्ली तलब किया है ताकि उनकी संतुष्टि के लिए कोई सम्मानजनक हल निकाला जा सके। बताया जाता है कि सिद्धू ने भी अपना रवैया थोड़ा नरम कर लिया है और वह समाधान तलाशने में पार्टी नेतृत्व की पूरी मदद करेंगे।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: legal adviser Sandhu will now find a solution to Sidhu crisis

More News From punjab

Next Stories
image

free stats