image

चंडीगढ़: पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने विधानसभा के समीप मुट्ठीभर किसानों के साथ किये गये अकाली दल के प्रदर्शन को राजनीतिक हथकंडा करार दिया है। उन्होंने आज बजट सत्र के पहले दिन राज्यपाल का अभिभाषण समाप्त होने के बाद विधानसभा परिसर में पत्रकारों से  कहा कि अकाली दल आगामी लोकसभा चुनाव के मद्देनजर यह ड्रामा कर रही है। 

राज्यपाल अभिभाषण के दौरान अकालियों के हंगामे तथा लोक इंसाफ पार्टी के विधायकों के अभिभाषण की प्रति फाड़ने की हरकत पर उन्हें आड़े हाथों लेते  हुये मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछले दस सालों में बादल सरकार ने किसानों के लिए कुछ नहीं किया लेकिन अब चुनावों को देखते हुए किसान कर्ज राहत मुद्दे पर उन्हें गुमराह करने की कोशिश कर रही है।

उन्होंने कहा कि उनकी सरकार ने कर्ज राहत स्कीम के तहत 5.83 लाख छोटे तथा सीमांत किसानों की मदद की है और जल्द ही सभी 10.25 लाख किसानों के कर्ज माफ करेगी। अकाली कर्ज  माफी के मामले में किसानों को गुमराह करने के प्रयास कर रही है ले किन अब  कोई इनके झांसे में नहीं आयेगा। विपक्ष के बहिर्गमन को उन्होंने  राज्यपाल के खिलाफ बदतमीजी बताते हुये कहा कि असल में विपक्ष के पास कोई  मुद्दा है नहीं ,बस वो लोगों का ध्यान बांटने के लिए ऐसी हरकतें कर रही है ।

उन्होंने अकालियों सहित समूचे विपक्ष से आग्रह किया कि वे मतदाताओं  की भावनाओं का ख्याल रखते हुये उनके हित में रचनात्मक भूमिका निभायें ताकि  राज्य के विकास में वे अपना योगदान दे सकें। अन्यथा जिन लोगों ने उन्हें  चुना है उनके सामने जलील होना पड़ेगा। उन्होंने ककहा कि बहबलकलां फायरिंग केस में सदन की सिफारिश पर विशेष जांच टीम का गठन हुआ था और सरकार  इस बारे में जांच के बाद ही कोई कार्रवाई करेगी। जो भी दोषी पाए जायेंगे  उन्हें कानून सम्मत दंडित किया जायेगा। इस मामले में आरोपियों को बख्शा नहीं जायेगा चाहे वो कितना प्रभावशाली व्यक्ति क्यों न हो। लुधियाना  सामूहिक दुष्कर्म मामले में मुख्यमंत्री ने कहा कि पुलिस गंभीरता से मामले की जांच कर रही है और कुछ संदिग्धों को पकड़ा है। इस मामले में आरोपी जल्द पकड़े जाएंगे।
 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: CM Capt Amarinder Singh statement on Akali Worker

More News From punjab

free stats