image

अमृतसर: करीब 1 महीने के बाद रविवार को अमृतसर आए पंजाब के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने जहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चौकीदार चोर कहने में देर नहीं लगाई, वहीं कैप्टन सरकार के विकास के प्लेटफार्म पर पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल और पूर्व उप-मुख्यमंत्री सुखबीर बादल के खिलाफ भी जमकर छक्के लगाए। उन्होंने दोनों बादलों की तुलना ‘चंपा के दस फूल, चमेली की एक कली, मूर्ख की सारी रात, चतुर की एक घड़ी’ शब्दों से की।

रंजीत एवेन्यू स्थित नगर निगम परिसर में मेयर कर्मजीत सिंह रिंटू की अध्यक्षता में आयोजित समारोह में 2000 करोड़ के नए प्रोजैक्टों की शुरुआत करते हुए सिद्धू ने साफ कहा कि बतौर सांसद वह तत्कालीन मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल से अमृतसर के लिए 100 करोड़ रुपए लेकर आए थे, जिसका जश्न 10 साल तक मनाते रहे, जबकि कैप्टन सरकार ने 2 साल के अंदर ही शहर के लिए 2000 करोड़ रुपए की सौगात दे दी।  

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार गुरुनगरी के विकास में कहीं न कहीं रोड़ा बन रही है, रंग में भंग डाल रही है, लेकिन आने वाले वक्त में जब केंद्र की सरकार ही बदल जाएगी तो विकास की लहर खुद-ब-खुद चल पड़ेगी। यही वजह है कि देश का चौकीदार चोर, पंजाब की कैप्टन सरकार 2 हजार करोड़ की है। इतिहास गवाह है कि 2015 में बने अमृत प्रोजैक्ट के तहत ग्रांट लेने के लिए पंजाब की अकाली-भाजपा सरकार ने अपनी ओर से एक पैसा भी नहीं डाला। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत आए 74 करोड़ रुपए खुर्द-बुर्द कर डाले, जबकि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह ने 74 करोड़ वापस करने की बजाय सरकार का हिस्सा डाल केंद्र से करोड़ों रुपए और मंगवाए। 

उन्होंने बादल सरकार को निशाना बनाते हुए कहा कि पीने के पानी के लिए राज्य में बोर 260 फुट करने थे, लेकिन कर दिए 60 फुट। जो बोर 13 लाख में डाले जाने थे, उसकी कीमत 25 लाख वसूली गई। जमीन से पीला पानी आ रहा है, लोग बीमारियों से जूझ रहे हैं। कैप्टन सरकार ने 1300 करोड़ रुपए से यू.बी.डी.सी. कैनाल से शहर के नलकों में साफ पानी लाने की तैयारी कर ली है। 

सिद्धू ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत पहली किस्त के 34 करोड़ में से 46 लोगों को पचास-पचास हजार रुपए के चैक दिए जा रहे हैं, जबकि बादल सरकार यह काम भी न कर सकी। इस मौके पर केबिनेट मंत्री ओमप्रकाश सोनी, सांसद गुरजीत सिंह औजला, विधायक डा. राजकुमार, सुनील दत्ती, इंद्रबीर सिंह बुलारिया, मेयर कर्मजीत सिंह रिंटू, सीनियर डिप्टी मेयर रमन बख्शी, डिप्टी मेयर यूनस कुमार, कमिश्नर सोनाली गिरी, एडीशनल कमिश्नर कोमल मित्तल, ज्वाइंट कमिश्नर नीतिश सिंगला, पूर्व विधायक जुगल किशोर शर्मा, जिला कांग्रेस शहरी की प्रधान जतिंदर सोनिया आदि उपस्थित थे।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: The center of the obstacle in the development of the Guru Nagri: Sidhu

More News From punjab

Next Stories
image

Auto Expo Amritsar 2019
Auto Expo Amritsar 2019
free stats