image

अमृतसर: महानगर में लुटेरों के हौसले बुलंद हैं। लुटेरों ने शुक्रवार की दोपहर निजी कंपनी के कर्मियों को पिस्तौल दिखाकर स्कूटी लूट ली। स्कूटी में 4 लाख रुपए थे। वारदात के बाद पुलिस द्वारा शहर में अलर्ट जारी कर दिया। गली वकीलां वाली माल रोड निवासी सुनील कुमार और दीपक कुमार ने बताया कि वह निजी कंपनी एस.आई.पी.एल. में काम करते हैं। कंपनी का कार्यालय भंडारी पुल के नजदीक नैशनल काम्पलैक्स हाईड मार्कीट में है। उनकी कंपनी द्वारा मॉल और अन्य कार्यालयों से कैश इकट्ठा कर बैंक में जमा कराया जाता है। वह दोनों शुक्रवार की दोपहर ट्रीलियम मॉल के लाइफ स्टाइल शोरूम से 1 लाख 80 हजार रुपए और एक होटल अराइवल से 1 लाख 20 हजार रुपए लेकर निकले। उन्होंने स्कूटी की डिग्गी में रुपए रखे थे। 

रणजीत एवेन्यू बी-ब्लाक शॉपिंग काम्पलैक्स के मोड पर पहुंचे तो चाय वाली रेहड़ी के सामने सड़क टूटी है। उन्होंने जैसे ही स्कूटी की रफ्तार कम की तो मोटरसाइकिल सवार तीन युवकों ने उन्हें रोका। एक युवक ने लोहे की रॉड से उन पर हमले का प्रयास किया। वह पीछे हट गया। इतने में दूसरे ने पिस्तौल निकाली और गोली मारने की धमकी दी। वह दोनों डर गए। एक लुटेरे ने उनकी स्कूटी पकड़ी और ए-ब्लॉक की तरफ निकल गया। इसके पीछे ही बाइक सवार दोनों लुटेरे भी फरार हो गए। स्कूटी की डिग्गी में  लाख रुपए और जरुरी कागजात थे। वारदात की सूचना पुलिस को दी। डी.सी.पी. इंवैस्टीगेशन मुखविंदर सिंह भुल्लर, ए.सी.पी. क्राइम पलविंदर सिंह, सी.आई.ए. इंचार्ज सुखविंदर सिंह, ए.सी.पी. नार्थ सर्बजीत सिंह और थाना रणजीत एवेन्यू के इंचार्ज कमलजीत सिंह मौके पर पहुंचे।

 पुलिस द्वारा केस दर्ज कर लिया है। लुटेरों का सुराग लगाने के लिए शहर में अलर्ट जारी कर नाकाबंदी की है। इस वारदात के दौरान प्राथमिक जांच में पुलिस ने को शिकायतकर्त्ता पर ही शक है इसलिए दोनों को कई घंटे तक थाना रणजीत एवेन्यू ले जाकर गहन पूछताछ की गई।सुनील कुमार का कहना है कि 3 साल पहले भी रणजीत एवेन्यू के सामने ग्रीन एवेन्यू इलाके में उनके साथ इसी तरह से लूट की वारदात हुई थी। आज तक इस वारदात की गुत्थी नहीं सुलझी है। मामले की जांच कर रही सी.आई.ए. स्टाफ टीम का कहना है कि पुलिस द्वारा अलग-अलग पहलूओं पर जांच जारी है। जल्द ही लूट की गुत्थी को सुलझा लिया जाएगा। 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: robbery of 4 lakh rupees in Amritsar

More News From punjab

Next Stories
image

free stats