image

अमृतसर: पाकिस्तान के नोरवाल स्थित गुरुद्वारा श्री करतारपुर साहिब के दर्शनों के लिए जाने वाले श्रद्धालुओं के लिए बनाए जा रहे कॉरिडोर को लेकर वीरवार को भारत और पाकिस्तान के अधिकारियों के बीच बैठक हुई। भारतीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व गृह मंत्रलय में संयुक्त सचिव एस.सी.एल. दास और पाकिस्तान का नेतृत्व वहां के विदेश मंत्रलय के महानिदेशक (एस.ए. एंड सार्क) डा. मोहम्मद फैजल ने किया।


बैठक में भारत ने अपना पक्ष रखते हुए कहा कि गुरुद्वारा साहिब श्री करतारपुर साहिब जाने के लिए रोजाना 5,000 तथा विशेष दिवस और गुरु पर्व के अवसर पर 10,000 अतिरिक्त श्रद्धालुओं को सरहद पार जाने की इजाजत दी जाए। इतना ही नहीं, वहां जाने के लिए वीजा जरूरी न हो, हालांकि पासपोर्ट जरूरी रहे। बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए एस.सी.एल. दास ने कहा कि गुरु नानक देव अपने जीवन के अंतिम समय के 18 साल श्री करतारपुर साहिब में रहे। इस साल नवंबर में आयोजित होने वाला उनका 550वां प्रकाश पर्व दोनों देशों के लिए विशेष महत्व रखता है। दोनों देशों के अधिकारियों की अगली बैठक 2 अप्रैल को वाघा (पाकिस्तान) में होगी, जबकि दोनों देशों के इंजीनियरों की बैठक 19 मार्च को डेरा बाबा नानक सरहद पर होगी। 


उन्होंने बताया कि बैठक में यह भी स्पष्ट तौर पर कहा गया कि आतंकवाद और बातचीत एक साथ नहीं चल सकती, इसलिए यह जरूरी है कि श्रद्धालुओं की सुरक्षा यकीनी बनाई जाए, वहीं पाकिस्तान अपनी धरती से किसी भी प्रकार की भारत विरोधी गतिविधियों को न होने दे। पाकिस्तान अधिकारियों ने ऐसा न करने देने का विश्वास दिलाया है। दास ने कहा कि खुशगवार माहौल में हुई बैठक में सिर्फ एक ही एजैंडा था, वह था श्री करतारपुर कॉरिडोर का तेजी से निर्माण करना। 


दास ने कहा कि कॉरिडोर के निर्माण में किसी भी तरह की कमी न रहे और डिजाइन भी एक जैसा बने, इसके लिए दोनों देशों के तकनीकी विशेषज्ञों की बैठक 19 मार्च को डेरा बाबा नानक सीमा पर होगी। उन्होंने कॉरिडोर का तेजी से संचालन करने की दिशा में काम करने पर सहमति व्यक्त की। उन्होंने कहा कि डेरा बाबा नानक में जमीन अधिग्रहण का काम तेजी से जारी है। उम्मीद है कि पहले चरण का काम सितंबर 2019 तक पूरा हो जाएगा। इस मौके पर पंजाब सरकार के लोक निर्माण विभाग के सचिव हुसन लाल ने भरोसा दिया कि कॉरिडोर बनाने में काम करने वाले केंद्रीय व राज्य की सभी एजैंसियों को सरकार की ओर से पूरा सहयोग दिया जाएगा, ताकि काम समय पर पूरा हो सके। 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: india seeks visa free access for 5000 pilgrims per day to kartarpur

More News From punjab

IPL 2019 News Update
free stats