image

अमृतसर : पंजाब सरकार द्वारा नशे के खिलाफ शुरू की गई मुहिम के दौरान बॉर्डर पर स्थित थाना घिरंडा में तैनात एएसआई रैंक के अधिकारियों को  हेरोइन की तस्करी के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। दोनों को स्पैशल टास्क फोर्स द्वारा मुख्यमंत्री कार्यालय से मिली सूचना के आधार पर गिरफ्तार किया गया है। उनसे मौके पर हैरोइन बरामद की गई है।   

पंजाब सरकार द्वारा शुरू की गई नशा विरोधी मुहिम के दौरान पुलिस को संकेत मिल रहे थे कि बॉर्डर एरिया में हेरोइन की तस्करी करने वाले गिरोह में पंजाब पुलिस के अधिकारी भी शामिल हैं। यह सूचना मुख्यमंत्री कार्यालय में पहुंची। जहां से एसटीएफ को कार्रवाई करने के आदेश जारी हुए। एसटीएफ बार्डर रेंज के एआईजी रछपाल सिंह खुद अपनी टीम के साथ सोमवार की रात थाना घरिंडा में पहुंचे। उन्होंने टीम के साथ थाने में तैनात एएसआई अवतार सिंह निवासी कृपा नगर सामने दाना मंडी जीटी रोड छेहरटा और एएसआई जोरावर सिंह निवासी गांव अचिंतकोट को गिरफ्तार कर लिया। पकड़े गए दोनों एएसआई से हैरोइन बरामद हुई है। दोनों के खिलाफ देर रात थाना घिरंडा में एसटीएफ के इंस्पैक्टर वरमीत सिंह के बयानों पर केस दर्ज किया गया है। पूछताछ के दौरान खुलासा हुआ है कि दोनों एएसआई के तार कुख्यात तस्कर रणजीत सिंह चीता के साथ जुड़े हुए हैं। हाल ही में पाकिस्तान से आई हैरोइन की सबसे बड़ी खेप के साथ भी दोनों एएसआई के नाम जुड़ रहे हैं। खाकी वर्दी की आड़ में की तस्करी में काफी लंबे समय से जुड़े हुए थे। उनकी तैनाती भी थाना घिरंडा में काफी लंबे समय से है। 

ए.आई.जी. रछपाल सिंह का कहना है कि अभी पूछताछ चल रही है मंगलवार को प्रैस कांफ्रैंस के दौरान पकड़े गए एएसआई. और उनसे हुए खुलासों की जानकारी देंगे। दूसरी तरफ पुलिस विभाग द्वारा कड़ा नोटिस लेते हुए दोनों ही एएसआई को नौकरी से बर्खास्त कर दिया गया है।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Heroin recovered in Amritsar

More News From punjab

Next Stories
image

Auto Expo Amritsar 2019
Auto Expo Amritsar 2019
free stats