image

अमृतसर: करीब ढ़ाई साल बाद उपकार सिंह संधू एक बार फिर कांग्रेस में शामिल हो गए। हलका दक्षिणी के विधायक इंद्रबीर सिंह बुलारिया के प्रयासों के चलते चंडीगढ़ में मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने संधू को कांग्रेस में शामिल किया।

अकाली-भाजपा सरकार के दौरान संधू अकाली दल अमृतसर शहरी के प्रधान और पेडा के चेयरमैन रहे। श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी की बेअदबी होने से खफा संधू ने 2016 के मध्य में अकाली दल को तिलांजलि देकर कांग्रेस का दामन पकड़ा था, लेकिन 2017 के विधानसभा चुनाव से ठीक पहले उन्होंने ‘आप’ ज्वाइन कर 2017 में लोकसभा का उपचुनाव भी लड़ा था, जिसमें उन्होंने 1 लाख से अधिक मत हासिल किए थे। ‘आप’ द्वारा भगवंत मान को पंजाब की कमान सौंपने से संधू खफा हो गए थे और पार्टी छोड़ सामाजिक कार्यों में जुट गए थे।

रविवार को चंडीगढ़ से अमृतसर लौटते समय ‘दैनिक सवेरा’ से बातचीत में संधू ने कहा कि विधानसभा चुनाव से पहले ‘आप’ नई पार्टी के तौर पर पंजाब में उभरी थी। उनको उम्मीद थी कि वह पंजाब का भला करेगी, इसलिए उसके साथ खड़े हो गए थे। लोकसभा उप-चुनाव के प्रचार के दौरान वरपाल में हुई उनकी जनसभा में आए ‘आप’ के प्रधान भगवंत मान शराब में टल्ली थे। उनके मुंह से बदबू आ रही थी। उन्होंने तथा एक अन्य नेता ने बड़ी मुश्किल से उनको स्टेज पर खड़ा किया था। 

संधू ने कहा कि उन्होंने तभी कह दिया था कि ‘आप’ का नाम पैग प्याला पार्टी रखा जाए। जहां तक अकाली दल का संबंध है, वह परिवार दल और गुलाम दल बनकर रह गया है। जिस तरह बरगाड़ी कांड में अकाली दल की तस्वीर सामने आई हैं, वह किसी से छुपी नहीं हैं। उन्होंने कहा कि कैप्टन व बुलारिया ने उनको कांग्रेस में शामिल कर एक बार फिर से राजनीतिक सम्मान दिया है। वह कांग्रेस वर्कर के तौर पर  प्रचार करेंगे और हाईकमान जो भी जिम्मेदारी सौंपेगा, वह उसे निभाने के लिए तैयार रहेंगे। 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Former SAD leader Upkar Sandhu joins Congress

More News From punjab

Next Stories

image
free stats