image

अमृतसर: महानगर में बुधवार शाम दर्दनाक हादसा हुआ। गेट हकीमां की गली मोचियां वाली में 3 बहनों ने खुद को घर में बंद कर आग लगा ली। आग बुझाने के बाद जब पुलिस और इलाके के लोग घर में दाखिल हुए तो तीनों बहनों के शव पड़े मिले। गेट हकीमां, चौड़ा बाजार गली मोचियां वाली के वासी जगजीत सिंह ने बताया कि वह अपनी पत्नी इंदु और बेटे जसप्रीत सिंह के साथ रहते हैं। 5 महीने पहले उनकी सास की दिल्ली में मौत हो गई। इसके बाद उनकी साली प्रीति और वंदना उनके पास अमृतसर में आकर रहने लगीं। वह और उनका बेटा कपड़े की दुकान पर काम करते हैं।

बुधवार शाम लगभग 6 बजे उन्हें फोन पर सूचना मिली कि उनके घर में आग लग गई है। जब तक वे वहां पहुंचे तो सब कुछ खत्म हो चुका था। उनकी पत्नी के साथ उनकी दोनों सालियां खत्म हो चुकी थीं। इलाके के लोगों ने बताया कि शाम 5 बजे एक धमाके के बाद घर से धुआं निकलते देखा तो उन्होंने दमकल विभाग को सूचित किया। 

कुछ देर बाद जब आग पर काबू पाया गया तो अंदर जाकर देखा कि इंदु के साथ उसकी बहन वंदना और प्रीति की मौत हो चुकी थी। मौके पर पहुंचे पुलिस अधिकारियों का कहना है प्राथमिक जांच में मामला आत्महत्या या आत्मदाह का दिखता है। तीनों बहनों ने इतना बड़ा कदम क्यों उठाया? इस बारे में किसी को भी पता नहीं चला है। देर रात तक पुलिस द्वारा मामले की गंभीरता से जांच जारी थी। 

पुलिस जांच के दौरान सामने आया कि जिस कमरे में आग लगी है वहां कैरोसिन के तेल की बोतल पड़ी हुई है। साथ में ही एक छोटी-सी लकड़ी और उस पर कपड़ा बांधा हुआ है, जिससे आग लगाई गई है। घर के अंदर से कैरोसिन के तेल की बदबू भी आ रही है, जिससे साफ जाहिर होता है कि कैरोसिन का तेल डालकर आग लगाई गई है। इलाके के लोगों ने बताया कि इंदू, प्रीति और वंदना तीनों बहनों के बीच काफी प्यार था। तीनों ने बुधवार दोपहर को बाजार में एक साथ शॉपिंग की और कॉस्मैटिक का सामान खरीदा था। 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: 3 sisters Suicide in Amritsar

More News From punjab

Next Stories

image
free stats