image

गुरुवार को राज्यसभा उपसभापति चुनाव में एनडीए के उम्मीदवार हरिवंश नायारण सिंह की जीत के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दोनों उम्मीदवारों को बधाई देने के दौरान की गई टिप्पणी के एक अंश को सदन की कार्यवाही से हटा दिया गया है। पीएम की टिप्पणी पर विपक्षी सांसदों ने आपत्ति जाहिर की थी। पीएम मोदी गुरुवार को उपसभापति के चुनाव के दौरान राज्यसभा में मौजूद थे और उन्होंने एक संक्षिप्त वक्तव्य भी दिया था। 

राष्ट्रीय जनता दल के सांसद मनोज झा ने पीएम की टिप्पणी पर ऐतराज किया था और सभापति से इसे कार्यवाही से हटाने की मांग की थी। उन्होंने पीएम की टिप्पणी के खिलाफ पॉइंट ऑफ ऑर्डर भी रेज किया था। शुक्रवार को राज्यसभा के सचिवालय ने जानकारी दी कि पीएम की टिप्पणी में उस हिस्से को हटा दिया गया है। मनोज झा ने कहा था कि यह टिप्पणी आपत्तिजनक और गलत मंशा से की गई थी। सभापति की ओर से उन्हें इस पर विचार करने का आश्वासन मिला था। बाद में सभापति के निर्देशानुसार पीएम के वक्तव्य के इस हिस्से को हटा दिया गया।

आपको बता दें कि पीएम ने एनडीए के उम्मीदवार हरिवंश की जीत के बाद उनके नाम में 'हरि' का जिक्र करते हुए अपनी टिप्पणी में कहा था, 'अब सब कुछ 'हरि' भरोसे है। उम्मीद है कि हरि कृपा हम सबपर बनी रहे। दोनों पक्षों के प्रत्याशियों के नाम में 'हरि' जुड़ा है। ये चुनाव था जहां दोनों तरफ हरि थे, लेकिन एक तरफ बीके थे, उनके आगे बीके था, बीके हरि... कोई ना बीके हरिवंश के सामने कोई 'बिके' नहीं।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Why PM Modi statement removal on Hariprasad from Rajya Sabha

More News From national

Advertisement
Advertisement
free stats