Advertisement
image

मां बनने का एहसास बहुत ज्यादा अलग होता है। इस दौरान बहुत बातें ध्यान में रखने पड़ती है।गर्भावस्था एक महिला के जीवन के सबसे रोमांचक और चुनौतीपूर्ण समय में से एक है। गर्भवस्था के दौरान महिलाओं को बहुत सारी परेशानिया आती है। गर्भवती महिला को रहन-सहन, खान-पान, चाल-चलन का महत्वपूर्ण ध्यान देना पड़ता  है। गर्भवस्था के दौरान, हार्मोन परिवर्तन होने की संभावना थकन का मुख्य कारण होता है। इस समय आपका शरीर बच्चे को पोषक तत्व प्रदान करने के लिए अधिक रक्त उत्पादन करता है।

गर्भवस्था के दौरान जितना हो सके अपने शरीर को आराम दें। रात को आराम से बायीं और करवट लेकर सो जायें। इसके अलावा अगर दिन में 2 घंटे आराम ले लें तो आपके थकान को कम करने में मदद मिलेगी। इससे आपके पेट में पल रहे भ्रूण को आराम मिलेगा और उसके शरीर पर ऊर्जा की मात्रा सुचारु रूप से मिलेगी। आराम करना आपके और आपके बच्चे के लिए लाभदायक सिद्ध होगा।

इस दौरान थकान हमेशा तब होती है जब हम ओवरलोड खाना कहते है जिससे तुरंत ही नींद का आभास भी हो जाता है। थकान को दूर करने के लिए आप संतुलित आयरन, प्रोटीन, कैलोरी वाला आहार ले। ये संतुलित आहार आपको थकान को कम करने में सहायता करेंगे। इसके अलावा, गर्भवस्था के दौरान साफ़ गुनगुना पानी पीये।

कम पानी पीना अक्सर गर्भवस्था में थकान, जलन और दर्द का कारन बनता है, अपने शरीर को निरोगी रखने के लिए आप जितना हो सके भरपूर पानी पीये। इसके अलावा हाइड्रेट रहने के लिए स्वादिष्ट सूप, फलो का शेक पी सकते है। स्वस्थ सब्जिया और अच्छी कैलोरी वाले और प्रोटीन युक्त भोजन करे।

नारियल खाना और इसका पानी पीना दोनों आपकी सेहत के लिए फायदेमंद है और इससे भी शरीर में तुरंत भरपूर एनर्जी आती है। नारियल खाने से मोटापा कंट्रोल होता है और याददाश्त तेज होती है। इसे खाने से नींद अच्छी आती है और शरीर को भरपूर पोषण मिलता है।

पंजाब और देश - विदेश से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक। Youtube

Web Title: why do women get exhaustion during pregnancy


advertisement
free stats Web Analytics