image

सिंगापुरः वैज्ञानिकों ने कंप्यूटरों में बेहतर तरीके की मेमोरी को डिजाइन करने एवं व्यावहारिक बनाने के लिए एक वायरस का सफलातपूर्वक इस्तेमाल किया है, जो कंप्यूटर की गति एवं कार्य दक्षता को बढ़ा सकता है। एक शोध में पाया गया कि तेज गति से चलने वाले कंप्यूटरों को विकसित करने का एक मुख्य तरीका है कि वायरस एम13 जीवाणुभोजी का इस्तेमाल कर मिली सेकेंड समय की देरी को घटाना। यह विषाणु ई कोलाई जीवाणु को संक्रमित करता है।

Read More पेट्रोल-डीजल के दामों में गिरावट का सिलसिला जारी, ये रहेगा आज का रेट

समय में होने वाली यह देरी अक्सर पारंपरिक रेंडम एक्सेस मेमोरी रैमी चिप एवं हार्ड ड्राइव के बीच सूचनाओं के स्थानांतरण एवं उसके संग्रहण से होती है। सिंगापुर यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नोलॉजी एंड डिजाइर्न एसयूटीडी के अनुसंधानकर्ताओं का कहना है कि रैम चिप तेज तो होती है, लेकिन यह महंगी एवं अस्थिर होती है यानि सूचनाओं को बरकरार रखने के लिए इसे ऊर्जा की आपूर्ति चाहिए होती है।

Read More शहीद इंस्पेक्टर सुबोध के परिवार से मिले योगी आदित्यनाथ, मानी सभी मांगे

वहीं फेज चेंज मेमोरी रैम चिप की ही तरह तेज हो सकती है और यहां तक कि इसकी संग्रहण क्षमता हार्ड ड्राइव से ज्यादा होती है। नई मेमोरी तकनीक में ऐेसी वस्तु का इस्तेमाल किया गया जो व्रिस्टलीय एवं अव्रिस्टलीय स्थितियों के बीच खुद को बदल सकता है। पहली बार अनुसंधान में पाया गया कि एम13 जीवाणुभोजी का इस्तेमाल कर कम तापमान पर जर्मेनियम-टिन ऑक्साइड तारें बनाई जा सकती हैं और मेमोरी प्राप्त की जा सकती है। यह शोध अप्लाइड नैनो मैटेरियल्स में प्रकाशित हुआ है।

Read More  LOC पर भारतीय-पाकिस्तानी सैनिकों के बीच गोलीबारी

 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Virus Will Help To Increase The Speed Of Computer

More News From international

free stats