image

वाराणसीः उत्तर प्रदेश के वाराणसी में शुक्रवार को वीरा पट्टी रेलवे स्टेशन के पास अहरक गांव के पास रेलवे फाटक पर ट्रेन और कार की टक्कर में दो बच्चे घायल हो गए, लेकिन एक बड़ा हादसा टल गया।

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि हवाड़ा-देहरादून एक्सप्रेस ट्रेन के आने से ठीक पहले गेटमैन ने रेल फाटक बंद नहीं किया। इसी दौरान वहां एक बलेरो कार आ गई तथा चलती ट्रेन की चपेट आने से उसका अगला हिस्सा बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया। हादसे में कार सवार दो बच्चे घायल हो गए, जिन्हें पास के अस्पताल में भर्ती करवाया गया। प्राथमिक उपचार के बाद बच्चों को छुट्टी दे दी गई है।

हादसे के बाद बड़ी संख्या में स्थानीय निवासी मौके पर जमा हो गए। उन्होंने गेटमैन को बर्खास्त करने की मांग को लेकर रेल यातायात बाधित कर नारेबाजी की। प्रदर्शनकारियों का आरोप है कि गेटमैन बिंदेश्वरी मिश्रा अक्सर शराब के नशे में रहता है जिससे वह र्निधारित समय पर रेल फाटक बंद नहीं कर पाता। इस तरह यहां हादसे की आशंका बनी रहती है।

दुर्घटना तथा रेल यातायात के बाधित किये जाने की सूचना पर राजकीय रेलवे पुलिस, रेलवे सुरक्षा बल और स्थानीय पुलिस के अधिकारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। उन्होंने प्रदर्शनकारियों से धरना समाप्त करने का आग्रह किया, लेकिन वे नहीं माने। इसके बाद पुलिस ने हल्का बल प्रयोग उन्हें तितर-बितर किया और तब रेल सेवा बहाल हो सकी। रेलवे के सूत्रों ने बताया कि गेटमैन पर लगे लापरवाही के आरोप समेत पूरे मामले की जांच के बाद आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।



DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Two children injured in train-car collision in Varanasi

free stats