image

अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी इन दिनों खतरे में हैं। पंजाब के बहुत से विधायक केजरीवाल को चुनौती दे रहे है कि अगर सुखपाल खैहरा को नेता प्रतिपक्ष के पद से हटाने का फैसला नहीं बदला गया तो पार्टी में दोफाड़ होकर रहेगा।
 दिल्ली के बाद पंजाब ही ऐसा राज्य है जहां आम आदमी पार्टी को सबसे ज्यादा सफलता मिली थी लेकिन अब यहां सब कुछ ठीक नहीं है। आम आदमी पार्टी में बगावत की आग इसलिए तेज हो गई क्योंकि दिल्ली के केंद्रीय नेताओं ने पंजाब इकाई को बिना सूचना दिए ही विरोधी पक्ष के नेता सुखपाल सिंह खैहरा को उनके पद से बाहर का रास्ता दिखा दिया।

पंजाब के 8 विधायक केजरीवाल के फैसले के खिलाफ आर या पार करने के मूड में हैं। आम आदमी पार्टी के इन विधायकों ने मीटिंग की और सुखपाल खैहरा को उनके पद पर फिर से बहाल करने की मांग की। खैहरा के समर्थन में सीनियर पत्रकार रहे विधायक कँवर संधू ने भी अपने पद से इस्तीफ़ा दे दिया।

अब दो अगस्त को आम आदमी पार्टी के बागी विधायक बठिंडा में बड़ी रैली कर रहे हैं। आम आदमी पार्टी अब कांग्रेस और अकाली दल दोनों  निशाने पर है।पंजाब में संकेत यह भी मिल रहे है कि हो सकता है अरविंद केजरीवाल कांग्रेस के साथ मिलकर चुनाव लड़ें। यह प्रयोग पंजाब के साथ- साथ दिल्ली में किया जा सकता है।

कल रात मनीष सिसोदिया ने खैहरा के साथ मीटिंग की लेकिन नतीजा कुछ नहीं निकला। मीटिंग में अरविंद केजरीवाल के साथ, मनीष सिसोदिया, विधायक कँवर संधू, परिमल सिंह, मास्टर कमालू, रुपिंदर कौर रूबी, समेत 8 विधायक शामिल हुए, संदेश साफ़ है कि दिल्ली में बैठकर आप पंजाब को नहीं चला सकते।
 
2 अगस्त को सुखपाल सिंह खैहरा और एनी विधायकों के नेतृत्व में बठिंडा के दबवाली रिसोर्ट में आम आदमी पार्टी के समर्थकों का कन्वेंशन बुलाया गया है। अगर 2 अगस्त से पहले सुखपाल खैहरा के बागी तेवर ठंडे नहीं हुए तो पार्टी में विभाजन का खतरा बढ़ जाएगा।

आम आदमी पार्टी के बगावती विधायकों का कहना है कि सुखपाल सिंह खैहरा को हटाकर हरपाल सिंह चीमा को विधायक दल का नेता बनाने का कोई तुक ही नहीं है। सुखपाल सिंह खैहरा के समर्थक कह रहे हैं कि अगर पार्टी में कुछ बदलना है तो पंजाब के पार्टी अध्यक्ष को बदला जाए, न कि नेता प्रतिपक्ष सुखपाल सिंह खैहरा को, जो लगातार कैप्टन अमरिंदर सिंह सरकार पर हमलावर रहते हैं। 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: The rebellion in Aam Admi Party

More News From national

Advertisement
Advertisement
Advertisement
free stats