image

जम्मू : जम्मू-कश्मीर पुलिस सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने वालों की निगरानी के लिए विशेष प्रयोशाला खोलेगी। इस प्रयोगशाला के जरिये पुलिस को सोशल मीडिया पर फैलाई जा रही विवादित सामग्री की जांच करने एवं उसे रोकने में मदद मिलेगी।  पुलिस सूत्रों के मुताबिक इन दिनों लोग सोशल मीडिया का काफी इस्तेमाल करने लगे हैं, ऐसे में कई शरारती तत्व सोशल मीडिया के सहारे अफवाहें फैलाने तथा शांति भंग करने की कोशिशों में लगे रहते हैं, इसकी रोकथाम के लिए जम्मू-कश्मीर पुलिस ने विशेष प्रयोगशाला खोलने का फैसला किया है।  

सूत्रों के मुताबिक इस प्रयोगशाला के जरिये पुलिस सोशल मीडिया पर डाली जाने वाले आपत्तिजनक सामग्री या किसी भी तरह के विवादित चित्र को पोस्ट करने वाले व्यक्ति को आसानी से पकड़ सकती है। इतना ही नहीं कोई भी व्यक्ति ऐसी किसी भी सामग्री या विवादित चित्र को सोशल मीडिया पर आगे बढ़ाता है तो विशेष प्रयोगशाला की निगरानी रखने वाले अधिकारी तुरंत उस व्यक्ति की पहचान कर उसे पकड़ लेंगे।सूत्रों के अनुसार यह विशेष प्रयोगशाला जम्मू-कश्मीर पुलिस के साइबर सेल द्वारा संचलित होगी और इस प्रयोगशाला में तकनीकी रुप से ध्वनि और उच्च तकनीक वाले उपकरणों को संभालने में विशेष अधिकारी ही शामिल होंगे।पुलिस विभाग के कुछ जवानों को तकनीकी प्रशिक्षण भी दिया जायेगा।

विशेष प्रयोगशाला के अलावा पुलिस विभाग सोशल मीडिया पर अफवाहों को रोकने के लिए वॉट्सअप नंबर जारी करने पर विचार कर रही है, जिसके द्वारा किसी भी व्यक्ति के पास विवादित पोस्ट आने पर वह उस नंबर पर वॉट्सअप करके शिकायत दर्ज करा सकता है। राज्य के अलग-अलग थानों में सोशल मीडिया पर फैलायी जा रही अफवाहों की शिकायतों के मद्देनजर उनकी रोकथाम के लिए विशेष प्रयोगशाला बनाने का निर्णय लिया गया है।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Special laboratory in Jammu and Kashmir to monitor social media

More News From jammu-kashmir

Bangali Guru
free stats