image

गांधीनगरः 2019 में लोकसभा चुनाव होने वाले हैं, चुनावों के मद्देनजर कांग्रेस, बीजेपी दोनों पार्टियां अपना अपना दमखम लगा रही हैं और पूरी जोर शोर से तैयारियां हो रही हैं, लेकिन 2019 से पहले ही कांग्रेस की विकटें गिरनी शुरु हो गई हैं, एेसा कहना कुछ गत नहीं होगा, क्योंकि कई बड़े नेता पहले ही कांग्रेस का हाथ छोड़ चुके हैं और अब फिर से कांग्रेस के बड़े नेता व गुजरात से वरिष्ठ कांग्रेस विधायक कुंवरजी बावलिया ने विधायक पद से  इस्तीफा दे दिया है। इसके बाद वह गुजरात में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रदेश मुख्यालय ‘श्री कमलम’ पहुंचे और पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष जीतू वघानी और दो अन्य कैबिनेट मंत्रियों से मुलाकात की।

6 बार रह चुके हैं विधायक 

राजकोट जिले के जसदन निर्वाचन क्षेत्र से छह बार विधायक रह चुके बावलिया ने गुजरात विधानसभा अध्यक्ष राजेंद्र त्रिवेदी को अपना इस्तीफा सौंपा। बावलिया 2009 के चुनाव के दौरान राजकोट लोकसभा सीट से निर्वाचित हुए थे।

इस्तीफा देने की क्या रही वजह

कोली समाज के बड़े नेता बावलिया दिसंबर 2017 के चुनावों से लगातार नजरअंदाज किए जाने की वजह से नाराज चल रहे थे। उन्हें पार्टी में कोई प्रमुख पद भी नहीं दिया गया था। बावलिया की राज्य में सत्तारूढ़ भाजपा से जुड़ने की संभावना है  और वह विजय रूपाणी मंत्रिमंडल में शामिल हो सकते हैं।इससे पहले राजकोट से एक और नेता एवं पूर्व विधायक इंद्रनील राजगुरु ने भी पार्टी नेतृत्व पर कई वरिष्ठ नेताओं की अनदेखी का आरोप लगाकर इस्तीफा दे दिया था। 


 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: kunwarji bawalia resigned from congress in gujrat

Advertisement
Advertisement
Advertisement
free stats